Press "Enter" to skip to content

जशपुर में रावण दहन विवाद : सांसद के बयान के बाद मामले में आया नया मोड़ , कैमरे के सामने आए समिति के लोग ,रावण दहन को लेकर दी ये सफाई ,कहा-यह कोई भारतीय जनता पार्टी….watch video सुनिये पूरी बात ….

जशपुर मुनादी ।।

कुनकुरी के सनातन धर्म दुर्गा पूजा समिति के द्वारा रावण दहन समारोह का मुख्य अतिथि बनाये जाने पर छिड़े घमासान के बीच आज फिर इस मामले में एक नया मोड़ आया है।

सांसद गोमती साय द्वारा विधायक यु डी को यज्ञोपवित संस्कार कराए जाने की दी गयी नसीहत और सनातन धर्म दुर्गा पूजा समिति द्वारा चंदे के लिए धर्म को बेचने के लगाए गए गम्भीर आरोपो के बाद सनातन धर्म समिति के अध्यक्ष और पदाधिकारी कैमरे के सामने आए और कहा कि रावण दहन राम लक्ष्मण और हनुमान के द्वारा किया जाता है यह सबको पता है।इसके लिए छोटे छोटे बच्चों को राम लक्षण और हनुमान बनाया जाता है वही रावण के पुतले पर तीर चलाते है और फिर रावण दहन होता है । मुख्य अतिथि कभी भी रावण दहन नहीं करता ।
सनातन धर्म दुर्गा पूजा समिति में वर्षो से जुड़े रहने वाले समिति के सीनियर पदाधिकारी व सदस्य राधेश्याम हेड़ा ने मुनादी डॉट कॉम से चर्चा के दौरान कहा कि रावण दहन कार्यक्रम को बेवजह टूल देकर वोट बैंक की राजनीति की जा रही है जो गलत है।उन्होंने कहा कि यह कोई भारतीय जनता पार्टी का कार्यक्रम नहीं है ।

समिति के अध्यक्ष ओम शर्मा ने सांसद द्वारा रावण दहन किये जाने से पूर्व विधायक को जनेउ संस्कार कराए जाने की नसीहत पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह बात सबको समझना चाहिए कि मुख्य अतिथि की उपस्थिति में रावण दहन होता है मुख्य अतिथि रावण दहन नहीं करता फिर ऐसे में जनेउ और संस्कार का तो प्रश्न ही पैदा नहीं होता । भाजपा द्वारा मुख्य अतिथि का विरोध किये जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि वह स्वयं भाजपा के प्रभारी है और उन्हें नहीं लगता कि भाजपा इसका विरोध कर रही है । सनातन धर्म समिति राजनीतिक संस्था नहीं है न ही समिति को राजनीति से कोई लेना देना है।

Watch video सुनिये ,सांसद के बयान के बाद समिति का नया बयान

आपको बता दें कि सनातन धर्म दुर्गा पूजा समिति के द्वारा इस रावण दहन समारोह का मुख्य अतिथि कुनकुरी के काँग्रेस विधायक यू डी मिंज को बनाया गया है जिसको लेकर भाजपा की ओर से विरोध शुरू कर दिया गया । सोशल मीडिया में समिति के उपर विधायक से चंदे में मोटी रकम लेकर विधायक को मुख्य अतिथि बनाने के गम्भीर आरोप लगाए गए तो सांसद गोमती साय ने यहाँ तक कह दिया कि चंदे के लिए धर्म को बेचा जा रहा है ।

इसे भी पढ़े

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *