Monday, November 18, 2019
Home > Top News > शिक्षक की शिकायत पर बीईओ को आया गुस्सा….दे दिया नोटिस, कहा-3 दिनो में सबूत दो……..

शिक्षक की शिकायत पर बीईओ को आया गुस्सा….दे दिया नोटिस, कहा-3 दिनो में सबूत दो……..

Munaadi News



बिलासपुर मुनाादी।।

शासकीय हाईस्कूल बोरसी विकासखण्ड बम्हनीडीह जिला जांजगीर-चाम्पा में पदस्थ व्याख्याता LB कृष्ण कुमार कश्यप जिन्होंने निम्न पद से अनुमति लेकर उच्च पद में पदभार ग्रहण किया हैं जिनको नियमानुसार निम्न से उच्च पद का आर्थिक लाभ का प्रस्ताव बम्हनीडीह बीईओ को बनाकर जिला पंचायत के पास भेजना था पर बीईओ कार्यालय ने लेनदेन को लेकर शिक्षक कृष्ण कुमार कश्यप का प्रकरण जानबूझकर लटका दिया।जिसकी शिकायत शिक्षक द्वारा समय समय पर उच्च अधिकारियों को किया जाता रहा हैं फिर भी बीईओ कार्यालय के अधिकारियों ने उनके एरिर्यस को रोके रखा जिससे परेशान होकर उक्त शिक्षक ने इसकी शिकायत महामहिम राज्यपाल को किया जिससे बौखलाए बीईओ बम्हनीडीह ने उसे अपनी तौहीन समझ राहत देने के बजाए उल्टे कारण बताओ नोटिस जारी कर तीन दिवस के भीतर जवाब मांगा हैं जिसका छग सहायक शिक्षक फेडरेशन निंदा करता है तथा बम्हनीडीह बीईओ से मांग करता हैं कि व्याख्यात कृष्ण कुमार कश्यप को प्रताड़ित करने के बजाय उन्हें राहत देते हुए उनके एरिर्यस राशि का भुगतान करे तथा उनसे लेनदेन की बात करने वाले एबीईओ को कारण बताओ नोटिस जारी कर अनुशासत्मक कार्यवाही करें प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए प्रांताध्यक्ष मनीष मिश्रा,सचिव सुखनन्दन यादव कोषाध्यक्ष शिव सारथी,कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष सीडी भट्ट,उपाध्यक्ष अजय गुप्ता, रंजीत बनर्जी,उपप्रांताध्यक्ष बलराम यादव,महामंत्री छोटेलाल साहू,प्रवक्ता बसन्त कौशिक, हुलेश चन्द्राकर ने कहा हैं कि अगर बीईओ ने फिर भी हमारी माँग को दरकिनार किया और कृष्ण कुमार कश्यप को राहत नही दिया तो फेडरेशन का पूरा संगठन श्री कश्यप के पक्ष में आचार सहिता के बाद जबदस्त आंदोलन छेड़ेगा जिसकी सारी जवाबदेही बीईओ बम्हनीडीह की होगी।
फेडरेशन के कोषाध्यक्ष ने बताया कि चूंकि श्री कश्यप का प्रकरण संविलियन के पूर्व का हैं और उनके साथ वालो सभी का एरिर्यस राशि का भुगतान जर दिया गया है तो सिर्फ एक व्यक्ति का भुगतान रोके रखना लेनदेन को दर्शाता है जिसका साथ कुछ पुराने स्थानीय संगठन भी दे रहे है जो गलत बात है तथा संगठन के नियम के विरुद्ध है जिसकी फेडरेशन भर्सना करता है और आगाह करता है कि ऐसी प्रवित्ति पर लगाम लगना चाहिए ।

munaadi ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *