Thursday, October 1, 2020
Home > छत्तीसगढ़ > सुप्रीम कोर्ट की अवमानना के मामले में प्रशांत भूषण को हुई सजा का एलान, कोर्ट का अनोखा फैसला, पढ़िए पूरी खबर

सुप्रीम कोर्ट की अवमानना के मामले में प्रशांत भूषण को हुई सजा का एलान, कोर्ट का अनोखा फैसला, पढ़िए पूरी खबर

मुनादी डेस्क।। सुप्रीम कोर्ट की अवमानना में दोषी पाए जाने पर सजा के तौर पर 1 रुपए का जुर्मान लगाया गया है। देश के सर्वोच्च न्यायालय की अवमानना में दोषी पाए जाने पर प्रसिद्ध अधिवक्ता प्रशांत भूषण पर सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने उन पर 1 रुपए का जुर्माना देने का निर्देश दिया है।


बता दें कि, कोर्ट ने प्रशांत भूषण को जुर्माने की राशि देने के लिए 15 सितंबर तक का समय दिया गया है। जुर्माने की राशि नहीं देने पर उनको 3 महीने की जेल और 3 साल के लिए प्रेक्टिस पर रोक लगा दी जाएगी।

ये था पूरा मामला

बता दें कि, प्रशांत भूषण ने वर्तमान और पूर्व चीफ जस्टिस के बारे में ट्विटर ट्वीट किया था जिसे सुप्रीम कोर्ट ने अवमानना मन था। जिसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई की हुई। 14 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट ने ट्वीट पर प्रशांत भूषण के स्पष्टीकरण को अस्वीकार कर दिया था। साथ ही उन्हें अवमानना का दोषी करार दिया। भूषण को बिना शर्त माफी मांगने के लिए समय दिया गया था. लेकिन उन्होंने इससे इंकार कर दिया।

क्या था ट्वीट

प्रशांत भूषण ने 22 जून को सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश एस. ए बोबडे और चार अन्य जजों को लेकर टिप्पणी की थी। वहीं 27 जून को उन्होंने न्यायपालिका के 6 साल के कार्यकाल को लेकर भी एक टिप्पणी की थी। इस मामले में अदालत ने भूषण को कोर्ट की अवमानना का दोषी पाया है।

माफी मांगने से किया इंकार

25 अगस्त को सुनावाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि, माफी मांगने में गलत क्या है, क्या यह शब्द इतना बुरा है। सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण को अपने ट्वीट पर दोबारा विचार करते हुए मांफी मांगने के लिए कहा था। लेकिन उन्होंने ने इससे इंकार कर दिया और अपनी बात पर अड़े रहे।

1 रुपए जुर्माना

न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा, न्यायमूर्ति बी आर गवई और न्यायमूर्ति कृष्ण मुरारी की पीठ ने मामले में फैसला सुनाते हुए अधिवक्ता प्रशांत भूषण को कोर्ट की अवमानना का दोषी पाया। जिसपर फैसला सुनाते हुए पीठ ने मात्र 1 रुपए का जुर्माना लगाया।

Munaadi Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

//graizoah.com/afu.php?zoneid=3585386