Friday, June 5, 2020
Home > Surajpur News > खास खबर:-शिवपुर तुर्रा, नगर से गुजरने वाली कर्क रेखा व बिल द्वार गुफा विकसित किये जायेंगे पर्यटन स्थल के तौर पर, जिला प्रशासन ने बनाई कार्ययोजना

खास खबर:-शिवपुर तुर्रा, नगर से गुजरने वाली कर्क रेखा व बिल द्वार गुफा विकसित किये जायेंगे पर्यटन स्थल के तौर पर, जिला प्रशासन ने बनाई कार्ययोजना

मुकेश गोयल की रिपोर्ट

प्रतापपुर मुनादी।। जिला प्रशासन ने शिवपुर शिव मंदिर को भी पर्यटन स्थल के तौर पर विकसित करने के लिए कार्ययोजना बनानी आरंभ कर दी है। कल कलेक्टर दीपक सोनी ने श्रीराम वन गमन मार्ग में पड़ने वाले प्रमुख स्थलों के साथ प्रतापपुर व आसपास क्षेत्रवासियों के श्रद्धा का प्रमुख केंद्र शिवपुर को पर्यटन स्थल में शामिल करने की योजना से क्षेत्रवासियों में हर्ष का माहौल है। इसके अलावा नगर के मध्य से गुजरने वाली कर्क रेखा व खड़गवां स्थित बिल द्वार गुफा को भी विकसित करने की कार्ययोजना जिला प्रशासन ने बनाई है।

प्रतापपुर से 3 किमी दूर शिवपुर में पवित्र शिवमंदिर स्थित है। कल जिला कलेक्टर ने जिले में राम वन गमन के रास्ते में पड़ने वाले प्रमुख स्थानों में सर्व सुविधा के साथ विभिन्न पर्यटन से संबंधित कार्य को विकसित करने के लिए जिला अधिकारियों की समीक्षा बैठक बुलाई। इस दौरान राम वन गमन क्षेत्र के अलावा प्रतापपुर के शिवपुर तुर्रा सहित कर्क रेखा मार्ग व बिल द्वार गुफा को पर्यटन स्थल के तौर पर विकसित करने और चर्चा की।

जैसा कि सभी जानते है कि शिवपुर स्थित शिवपुर तुर्रा प्रतापपुर ही नहीं अन्य जिले के लोगों के लिए आस्था का एक बड़ा केंद्र है। यहां पर चट्टानों के बीच से अविरल बहती जलधारा पवित्र शिवलिंग को स्पर्श करते हुए प्रवाहित होती है। मान्यता के अनुसार इसे पाताल-गंगा का रूप माना गया है। पिछले कुछ वर्षों में शिवपुर मंदिर सेवा समिति ने इस स्थल के लिए काफी प्रयास किये है और मंदिर के प्राचीन स्वरूप को विकसित करते हुए वर्तमान में इसको भव्य रूप दिया है। जिला प्रशासन की इस पहल से मंदिर क्षेत्र को और भव्य रूप दिया जा सकेगा। इसका समाचार मिलते ही क्षेत्र में इसको लेकर लोगों की न केवल उत्सुकता बढ़ गई है, बल्कि लोगों की वर्षों पुरानी मांग पर प्रशासन की पहल का सभी ने स्वागत किया है।

इसके अलावा प्रतापपुर नगर के मध्य से कर्क रेखा गुजरने का स्थान माना गया है, इसको लेकर भी कई दशकों से नगरवासियों में उत्सुकता रही है। अब जिला प्रशासन के द्वारा कर्क रेखा गुजरने के पॉइंट को विकसित करने की योजना से नगरवासी उत्साहित है। जिला प्रशासन इसके लिए किस तरह की तैयारी कर रहा है, यह तो अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है, लेकिन नगर में इस कार्ययोजना को लेकर लोगों ने प्रसन्नता व्यक्त की ही।

इसके अलावा ग्राम खड़गवां स्थित बिल द्वार गुफा को जिला प्रशासन ने अपनी कार्ययोजना में शामिल किया है। हालांकि वर्ष 2013 को यहां पर भीषण हादसा हुआ था, जिसमें बिल द्वार गुफा के बड़ा हिस्सा ढह गया था और छह लोगों की मृत्यु हो गई थी। उस दौरान जिला प्रशासन ने इसे प्रतिबंधित कर दिया था। तब से लेकर आज तक यह क्षेत्र पर्यटन के लिए प्रतिबंधित है। अब जिला प्रशासन इसे सुरक्षा मानकों को ध्यान में रख कर कैसे विकसित करेगा। यह किसी चुनौती से कम नहीं है।

Munaadi Ad
Munaadi Ad
Devendra Singh
Cluster Editor Surguja Region

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *