Friday, July 19, 2019
Home > Raigarh > इनके जज्बे से बच गए मां और बच्चे वरना अनर्थ हो जाता ……ऐसे मामलों में है संवेदनशील ….पढिये पूरी खबर ….

इनके जज्बे से बच गए मां और बच्चे वरना अनर्थ हो जाता ……ऐसे मामलों में है संवेदनशील ….पढिये पूरी खबर ….

Munaadi News

रायगढ़ मुनादी।

इस तरह के कामो से लगातार पुलिस की छवि अब सिर्फ एक पुलिस वाले कि तरह नही रह गई है बल्कि अब वे ऐसा काम भी करने लगे है जिससे लोग अब पुलिस की छवि ऐसा सहयोग करने और की जेल भेजने सलाखों के पीछे दबोचने वाले के साथ अब जान बचाने वाले मसीहा के तौर पर बनने लगी है और जिले में ऐसी कई स्थितियां निर्मित हो चुकी है ओर आज भी ऐसा ही कुछ हुवा की अचेत अवस्था मे पड़े तीन मा बच्चो को जीवन देकर परिवार को बचा लिया। क्या है पढिये पूरी खबर ……

कर्तव्य के प्रति समर्पण भाव दिखाते डॉयल 112 में कार्यरत आरक्षक…..

गली सकरी होने के कारण ERV वाहन नहीं जा पाने से आरक्षकों ने बच्चों को कंधे में लेकर सड़क तक दौड लगाकर अस्पताल में भर्ती कराये

कोतवाली/कोतरारोड़ राइनो स्टाफ के कार्य की लोगों ने की सराहना

डॉयल-112 के आरक्षकों के द्वारा आज अपने कर्तव्य में समर्पित भाव दिखाते हुए सच्ची सेवा की मिसाल पेश किये ।

आज दिनांक 02.04.19 को दोपहर 12.01 बजे कमाण्ड कन्ट्रोल रायपुर से एक साथ कोतरारोड़/कोतवाली राइनो को मेडिकल इमरजेंसी का इवेंट दिया गया । थाना कोतरारोड़ से राईनो वाहन में आरक्षक सुशील यादव तथा कोतवाली राइनो-1 से आरक्षक संजीव पटेल मौके पर रवाना हुये । इवेंट की सूचना वार्ड क्रमांक 5 ईशानगर नवापारा से आयी थी । जहां रहने वाले जय वस्त्रकार की अनिता वस्त्रकार तथा उसकी लड़की सिरिम वस्त्रकार 13 साल, लड़का ओम वस्त्रकार उम्र 15 साल इपिन टेबलेट का सेवन कर लिये थे ।

जय वस्‌त्रकार का घर मोहल्ले में लास्ट पर था जहां गली सकरी होने ERV वाहन वहां तक नहीं पहुंच पायी । तब आरक्षकों ने दोनों बच्चों को कंधे में उठाकर ERV वाहन तक दौड लगायी और वाहन में लिटाकर तीनों आहतों को मेकाहरा में ले जाकर भर्ती कराये । आहिता के पति जय वस्‌त्रकार ने राईनो स्टाफ को बताया कि उसकी पत्नि नींद की गोलियां खाती थी और कुछ दिनों पहले वह बच्चों और स्वयं नींद की गोलियां खाकर खुदखुशी करने की बात बोली थी । आज सुबह जब वह घर आया तो काफी देर तक कोई दरवाजा नहीं खोला तो खिड़की से अंदर जाकर देखा , तीनों अचेत पड़े थे तो उसने डॉयल 112 को सूचना दिया । आसपास के लोगों ने डॉयल 112 के आरक्षकों के कार्य की काफी सराहना की जा रही है ।

         

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *