Wednesday, May 22, 2019
Home > Raigarh > भूल से बैठ गई थी गलत ट्रेन में पहुंच गई जोधपुर 3 साल से …. फिर इनकी मदद से जब आज पहुंची तो भीग गई आंख …….

भूल से बैठ गई थी गलत ट्रेन में पहुंच गई जोधपुर 3 साल से …. फिर इनकी मदद से जब आज पहुंची तो भीग गई आंख …….

जोधपुर के नारी-निकेतन में तीन साल से रह रही रायगढ़ की एक युवती को कोतवाली पुलिस सकुशल रायगढ़ ले आयी
रायगढ़ पुलिस ने पेश की मानवता की मिसाल


रायगढ़ मुुनादी।

पिछले तीन वर्ष से राजस्थान के जोधपुर के पाली थाना क्षेत्र के नारी-निकेतन में रह रही रायगढ़ की एक युवती को रायगढ़ पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद खोज निकाला और उसे रायगढ़ लाकर उसके परिजनों को सौंप दिया है। रायगढ़ पुलिस ने एक प्रकार से मानवता की मिसाल पेश करके एक अच्छा कार्य अपने नाम कर लिया है।
इस संबंध में रायगढ़ कोतवाली थाने के टीआई ध्रुव कुमार मारकण्डेय रायगढ़ के पत्रकारों को बताया कि आज से तीन वर्ष पूर्व एक युवती अंजना सारथी वल्द स्व. विद्यानंद सारथी उम्र २६ वर्ष रायगढ़ रेल्वे स्टेशन से पुरी जोधपुर टे्रन में बैठकर जोधपुर चली गई थी। जोधपुर स्टेशन में उतरते ही वहां की रेल्वे पुलिस ने युवती से पूछताछ कर उसे नारी निकेतन जोधपुर के हवाले कर दिया था। युवती ने नारी-निकेतन में तीन साल रहने के बाद एक दिन अचानक नारी-निकेतन के लोगों को बताया कि रायगढ़ छत्तीसगढ़ में जोगीडीपा मोहल्ले में मेरी मौसी रहती है। इतना सुनते ही नारी-निकेतन के लोगों ने कोतवाली थाने में संपर्क किया और टीआई ध्रुव मारकण्डेय को युवती के बारे में पूरी जानकारी दी।
मामले को संज्ञान में लेकर टीआई ने एसपी रायगढ़ राजेश अग्रवाल को पूरा ब्यौरा बताया। एसपी ने मानवीय संवेदना का परिचय देते हुए तत्काल टीआई से युवती को सकुशल रायगढ़ लाने के लिये एक पुलिस टीम जोधपुर भेजने के निर्देश दिये। एसपी रायगढ़ से मिले निर्देश के बाद टीआई ने युवती को सकुशल रायगढ़ लाने विगत ०१ मई को आरक्षक शांति कुमार मिरी, महिला आरक्षक आराधना आनंद और उसकी मौसी को जोधपुर के लिये रवाना किया। इस संंबंध में टीआई ने बताया कि युवती को एसडीएम जोधपुर के न्यायालय में युवती की मौसी के द्वारा दिये गये लिखित आवेदन पर परसो ९ मई रात को अंजना सारथी को लेकर रायगढ़ पुलिस की टीम ट्रेन से रायगढ़ पहुंची और आज युवती अंजना सारथी को उसकी मौसी के जिम्मे कोतवाली पुलिस ने सौंप दिया। विदित हो कि रायगढ़ कोतवाली पुलिस ने एसपी रायगढ़ राजेश अग्रवाल के निर्देश में टीआई ध्रुव मारकण्डेय एवं टीम ने मानवता की मिसाल पेश की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *