Press "Enter" to skip to content

देशभर में गहने चुराने वाली महिला चोर गैंग का पर्दा फाश, लाखों की ज्वेलरी के साथ दो सदस्यों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

रायपुर मुनादी।। देशभर में घूम घूमकर ज्वेलरी देखने के बहाने दुकानों से जेवरात चोरी करने वाले अंतर्राज्यीय महिला गिरोह के 2 सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार किया गया है। हाल ही में थाना कोतवाली क्षेत्रांतर्गत सदर बाजार स्थित महावीर अशोक ज्वेलर्स में ज्वेलरी देखने के बहाने इन चोरों ने चोरी की थी। चोरी किए गए जोड़ी सोने कि चूड़ी की कीमत 5,50,000/- (पांच लाख पचास हजार रूपये) बताई जा रही है।

दरअसल, प्रार्थी धीरज कुमार झा ने थाना कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई है कि वह सदर बाजार कोतवाली स्थित महावीर अशोक ज्वेलर्स का प्रबंधक है। २२ फरवरी को लगभग दुकान में तीन महिला ग्राहक खरीदी करने आई और बैंगल दिखाने बोली, दुकान का सेल्समेन उनको बैंगल दिखा रहा था।

इसी दौरान एक महिला ने दो जोडी बैंगल जिसका वजन 106.00 ग्राम 22 कैरेट और मूल्य 550000/- (पांच लाख पचास हजार रूपये) है, को अपने पर्स में रख कर चोरी कर चले गये। जिस पर अज्ञात महिला आरोपियों के विरूद्ध थाना कोतवाली में अपराध क्रमांक 55/21 धारा 379, 34 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया।

चोरी की घटना को पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अजय यादव द्वारा गंभीरता से लेते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर लखन पटले, नगर पुलिस अधीक्षक कोतवाली आंजनेय वाश्णेय (भा.पु.से.) एवं थाना प्रभारी कोतवाली श्री मोहसिन खान को अज्ञात महिला आरोपियों की पतासाजी कर गिरफ्तार करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में उपनिरीक्षक रामचंद्र साहू थाना कोतवाली के नेतृत्व में थाना कोतवाली व थाना गोलबाजार की एक संयुक्त टीम का गठन किया गया।

टीम के सदस्यों द्वारा प्रार्थी सहित दुकान में कार्य करने वाले कर्मचारियों से घटना व अज्ञात आरोपियों के हुलियों के संबंध में विस्तृत पूछताछ किया गया। टीम द्वारा घटना स्थल का निरीक्षण कर घटना स्थल व उसके आसपास लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों का अवलोकन किया गया तथा शहर में लगे सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेज प्राप्त कर दोनों फुटेजों का मिलान कर अज्ञात महिला आरोपियों के आने – जाने वाले मार्गो को चिन्हांकित किया गया।

टीम के सदस्यों द्वारा अज्ञात आरोपियों के आने -जाने हेतु उपयोग किये वाहनों के संबंध में भी जानकारी एकत्र कर अज्ञात आरोपियों की पतासाजी की जा रहीं थी। इसी दौरान टीम को आरोपियों के रूकने के स्थान के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई जिससे अज्ञात आरोपियों को चिन्हांकित करने में सफलता मिली। चूंकि महिलायें बहुत ही शातिर किस्म के चोर थे जो चोरी की घटना को अंजाम देने के बाद फरार हो गये थे। जिस पर टीम द्वारा अज्ञात महिला आरोपियों के संबंध में तकनीकी विश्लेषण किया गया।

विश्लेषण के दौरान आरोपियों की उपस्थिति उ.प्र. के कानपुर में होना पाया गया। जिस पर आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु टीम उ.प्र. के कानुपर रवाना हुई। टीम द्वारा कानपुर पहुंचकर आरोपियों की पतासाजी करते हुये आरोपी प्रार्ची तिवारी एवं पुष्पा देवी उर्फ श्यामा देवी उर्फ शशि को गिरफ्तार कर कड़ाई से पूछताछ करने पर उनके द्वारा अपने गिरोह के एक अन्य सदस्य पूनम यादव जो पुष्पा देवी उर्फ श्यामा देवी उर्फ शशि की पुत्री है, के साथ मिलकर उक्त चोरी की घटना को कारित करने के अलावा देश भर में घुम – घुम कर इसी तरीका वारदात के आधार पर चोरी की अन्य घटनाओं को भी कारित करना बताया गया।

महिला आरोपी अपना गिरोह बनाकर पूरे देश भर में घुम – घुम कर ज्वेलरी दुकान में ज्वेलरी देखने के बहाने जाकर मौका पाकर चोरी की घटनाओं को अंजाम देते है। आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से नगदी 10,000/- रूपये एवं अपराध से संबंधित 02 नग मोबाईल फोन जप्त कर आरोपियों के विरूद्ध अग्रिम कार्यवाही किया गया। घटना में शामिल फरार आरोपी पूनम यादव की पतासाजी कर उसकी गिरफ्तारी के हर संभव प्रयास किये जा रहे है।

Munaadi Ad Munaadi Ad Munaadi Chhattisgarh Govt Ad

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *