Monday, October 14, 2019
Home > Top News > भारत में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के लिए पीएम मोदी ने दिया भोज, ‘नॉन वेज’ को भी मेन्यू में दी गई खास जगह

भारत में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के लिए पीएम मोदी ने दिया भोज, ‘नॉन वेज’ को भी मेन्यू में दी गई खास जगह

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के दौरे पर आए चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के लिए शुक्रवार रात को भोज का आयोजन किया. इस दौरान शी चिनफिंग के लिए दक्षिण भारत के पारंपरिक व्यंजन के साथ-साथ कई खास नॉन वेज खानों को भी मेन्यू में शामिल किया गया.

प्रधानमंत्री मोदी ने इस दौरान चीनी राष्ट्रपति को पारम्परिक तमिल वस्तुएं भी भेंट कीं. मिली जानकारी के अनुसार दोनों नेताओं को शानदार रात्रिभोज में अन्य व्यंजनों के साथ-साथ दालों से बनाया जाने वाला पारंपरिक दक्षिण भारतीय व्यंजन ‘सांभर’ भी परोसा गया.

पिसी हुई दाल, विशेष मसालों और नारियल से तैयार की जाने वाली ‘अराचु विट्टा सांभर’ मेन्यू में आकर्षण का मुख्य केंद्र रही. इसके अलावा टमाटर से बनी थक्‍कली रसम, इमली, कदलाई कुरुमा और मिष्ठान में हलवा और अदा प्रधामन (केरल का मिष्ठान) समेत विभिन्न व्यंजन परोसे गए.

चीनी राष्ट्रपति के लिए चुनिंदा मांसाहारी व्यंजन भी तैयार किए गए. इससे पहले मोदी ने शी को नचियारकोइल अन्नम दीप और तंजावुर का एक चित्र भेंट किया। शी और मोदी के बीच दो दिवसीय औपचारिक शिखर वार्ता तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से करीब 50 किलोमीटर दूर स्थित मामल्लापुरम में शुक्रवार को आरंभ हुई. दोनों की इस प्रकार की पहली वार्ता पिछले साल वुहान में हुई थी. दोनों नेता रात्रिभोज से पहले ‘अर्जुन की तपस्या स्थली’, ‘पंच रथ’ और ‘शोर मंदिर’ भी गये .

गौरतलब है कि तमिलनाडु की पारपंरिक वेशभूषा वेष्टि (धोती), सफेद कमीज और अंगवस्त्रम पहने पीएम मोदी ने अच्छे मेजबान की भूमिका निभाते हुए शी को इस प्राचीन शहर की विश्व प्रसिद्ध धरोहरों अर्जुन तपस्या स्मारक, नवनीत पिंड (कृष्णाज बटरबॉल), पंच रथ और शोर मंदिर के दर्शन कराए. इस दौरान पीएम मोदी सूर्यास्त के दौरान सूरज की मध्यम रोशनी में चीनी नेता को स्मारकों की ऐतिहासिक महत्ता बताते हुए दिखे. सफेद कमीज और काला पेंट पहने शी चीन के फुजियांग प्रांत के साथ ऐतिहासिक रूप से जुड़े इस तटीय शहर के विरासत स्थल में प्रसिद्ध गुफाओं एवं पत्थर की मूर्तियों में काफी रुचि दिखाते दिखे.

पीएम मोदी और शी की मदद के लिए उनके साथ एक-एक अनुवादक भी थे. पीएम मोदी और राष्ट्रपति शी पंच रथ परिसर में करीब 15 मिनट बैठे और उन्होंने नारियल पानी पीते हुए गहन वार्ता की. इस बैठक की तस्वीरों में दो उभरती अर्थव्यवस्थाओं के नेताओं के बीच गर्मजोशी और तालमेल दिखा. दोनों नेता पंच रथ से पल्लव वंश की सांस्कृतिक विरासत के प्रतीक शोर मंदिर गए. वहां आकर्षक रोशनी की गई थी.

munaadi ad munaadi ad munaadi ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *