Wednesday, March 20, 2019
Home > Slider > शराब दुकानों में इसलिए लिए जाते हैं प्रिंट रेट से ज्यादा रुपये,रोज होती है की वसूली और इनके इशारे पर चल रहा है ….पढ़िए पूरी खबर

शराब दुकानों में इसलिए लिए जाते हैं प्रिंट रेट से ज्यादा रुपये,रोज होती है की वसूली और इनके इशारे पर चल रहा है ….पढ़िए पूरी खबर

रायपुर मुनादी।।

सरकारी शराब की दुकानों में एमआरपी रेट से ज्यादा पैसा लिए जाने की शिकायत इस लोकसभा चुनाव में भाजपा बड़े मुद्दे के रूप में इस्तेमाल करने जा रही है।भाजपा का कहना है कि कांग्रेस राज में सरकारी शराब दुकानों में ग्राहकों से प्रति बोतल 20 से 30 रुपये की अवैध वसूली हो रही है ।पूरे छग में सैंकड़ों शराब दुकानों में ग्राहकों से हो रही अवैध वसूली के आंकड़े प्रतिदिन करोड़ों में है और इन करोड़ों रुपयों को कांग्रेस चुनाव में खर्च करेगी।
भाजपा प्रवक्ता शिवरतन शर्मा ने पत्रकारों के सामने आंकड़ों को पेश करते हुए कहा कि सरकारी शराब दुकानों में ग्राहकों से प्रिंट रेट से 20 से 30 रुपये ज्यादा की वसूली की जा रही है और ये 20-30रुपयों को जोड़ा जाए तो पूरे प्रदेश से प्रतिदिन 6 करोड़ रुपये की वसूली हो रही है ।इन सारे रुपयों का हिसाब कांग्रेस के पास है क्योंकि कांगेस सरकार इन रुपयों को चुनाव के लिए इकट्ठा करा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *