Monday, October 14, 2019
Home > Top News > टोटके के कारण चार जिलों का निर्माण खटाई में, पिछले अनुभव से मिली सीख

टोटके के कारण चार जिलों का निर्माण खटाई में, पिछले अनुभव से मिली सीख

Munaadi News

 

रायपुर मुनादी ।

 

 

छत्तीसगढ़ में चार नए जिले का गठन फिलहाल ठंडे बस्ते में जाता दिख रहा है। इसके पीछे की सबसे बड़ी वजह टोटके को माना जा रहा है. सूत्रों के अनुसार पिछले चुनाव से पहले जहाँ जहाँ जिले की घोषणा हुयी वहां भाजपा का प्रदर्शन निराशाजनक रहा, ऐसे में जबकि उनके अपने सर्वे में भी चुनाव हारने की बात सामने आ रही है सरकार कोई रिस्क लेना नहीं चाहती.
ज्ञात हो कि राज्य सरकार चार नए जिले रामानुजगंज, सरंगगढ़, पत्थलगांव व जगदलपुर और चित्रकोट को मिलाकर एक अन्य जिला बनाने पर विचार कर रही थी जिसको अब तब शासन-प्रशासन ने अमली जामा नही पहनाया है।
बीते सात-आठ महीने पहले सूबे में इस बात को लेकर चर्चा थी कि रमन सरकार चार और नए जिले का गठन कर क्षेत्रो का चहुंमुखी विकास करेगी पर अबतक इस ओर कोई ठोस निर्णय नही लिया गया है।
इसके पीछे प्रशासनिक लचरता है या  छत्तीसगढ़
सरकार टोटका ये कहना मुश्किल है क्योंकि 2012 में गठित नए जिलो पर भाजपा सभी विधानसभा सीटे नही जीत पायी थी।
सम्भवतः सरकार इस टोटके में हो कि इस बार भी चार नए जिले बनने पर भी उन द ही सीट पर जीत मील या न मिले।

munaadi ad munaadi ad munaadi ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *