Thursday, October 1, 2020
Home > Top News > नशा मुक्ति मंच की खतरनाक यॉर्कर, नशे के सौदागरों का दूसरा विकेट क्लीन बोल्ड, जाने कैसे भारी मात्रा में नशीली ……

नशा मुक्ति मंच की खतरनाक यॉर्कर, नशे के सौदागरों का दूसरा विकेट क्लीन बोल्ड, जाने कैसे भारी मात्रा में नशीली ……

मंच के मुखबिर अब गांव-गांव

मुहिम में लगे लोगो को अब फंसाने की भी साजिश

कोरिया से अनूप बड़ेरिया की मुनादी

कोरिया जिला मुख्यालय बैकुंठपुर में जब से नशा मुक्ति मंच की स्थापना हुई है, तब से इससे सकारात्मक परिणाम सामने आने लगे हैं। सबसे अच्छी बात तो यह है कि बड़ी संख्या में महिलाएं अब सामने आ रही हैं और मंच के सामने नशे से संबंधित हर जानकारी व समस्या को रख रही हैं।

पुलिस हिरासत में नशे का सौदागर

नशा मुक्ति अभियान छेड़े जाने के बाद सबसे प्रमुख बात यह हुई है कि गांव-गांव में इस मंच से मेंबर बन गए हैं और हर गली चौराहे और नुक्कड़ में नशा के संबंध में मुखबिर भी तैनात मुखबीर भी तैनात हैं।

नशा मुक्ति मंच के विश्वसनीय मुखबिरों की बदौलत बुधवार को पटना क्षेत्र में नशे का एक सौदागर पकड़ा गया। इस मुहिम में लगे मंच के मुखबिर ने थाना प्रभारी रविन्द्र अनन्त को जानकारी दी कि ग्राम पंचायत छिंदिया निवासी योगेश गिरी एक बैग में नशीली दवाइयां रखकर बिक्री करने जा रहा था। इस दौरान पुलिस ने अपना जाल बिछाकर सुबह करीब 9 बजे मुख्य सड़क पर घेराबंदी कर आरोपी को धर दबोचा।

बैग की तलाशी लेने पर आरोपी योगेश के बैग से प्रतिबंधित एविल इंजेक्शन 250 नग, रेक्सोजेसिक इंजेक्शन 199 नग, एस्पास्मो प्रॉक्सिवोन टैबलेट 600 नग बरामद किया गया, जिसकी कीमत 7611 रुपए है। पुलिस ने अवैध दवाइयां जब्त कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने नारकोटिक्स एक्ट के तहत उसे जेल भेज दिया है।

इस संबंध में नशा मुक्ति मंच के प्रमुख संजय अग्रवाल ने बताया कि लगभग सारे नशे के सौदागरों की सूची बन चुकी है। जैसे ही उनके द्वारा कोई भी अब कोई भी हरकत की जाती है, तो मुखबिर की सूचना आते ही पुलिस की सहायता से खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया कि के अलावा अन्य गतिविधियों के जिले के कलेक्टर मीटिंग होने वाली है। जिसमें नशा मुक्ति अभियान से संबंधित साल भर के कार्यों के चार्ट पर चर्चा की जाएगी।

मुहिम में लगे लोगों को फंसाने की साजिश

जब से नशा मुक्ति मंच के लोगों ने नशे के सौदागरों के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है तब से ऐसे गैर कानूनी काम करने वाले लोगों के पैर उखड़ गए हैं। इस तरह के असामाजिक तत्व अब इस मुहिम में लगे लोगों को फंसाने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपनाने में लग गए है। बताया जाता है कि सागरपुर निवासी बीडी नायक जो नशे के सौदागरों की बिरादरी का ही है ने इससे संबंधित एक फर्जी वीडियो बनवाया और सिटी कोतवाली में शिकायत दर्ज की। लेकिन पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए इस नशे के सौदागर को ही जेल का रास्ता दिखा दिया।

वहीं वीडियो बनाने वाले महेंद्र साहू ने भी काफी इज्जत अफजाई के बाद इस वीडियो के फर्जी होने की बात थाने में कबूल भी कर ली।

Munaadi Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

//graizoah.com/afu.php?zoneid=3585386