Saturday, July 20, 2019
Home > Top News > नशा मुक्ति अभियान में अब जिला प्रशासन भी साथ, समाज के प्रबुद्ध वर्ग के लोगों के आगे आने से नशे के कारोबारियों में मचा हड़कम्प

नशा मुक्ति अभियान में अब जिला प्रशासन भी साथ, समाज के प्रबुद्ध वर्ग के लोगों के आगे आने से नशे के कारोबारियों में मचा हड़कम्प

कोरिया से अनूप बड़ेरिया की मुनादी

प्रसिद्ध शायर शहरयार का यह शेर..

हवा का रुख ही काफी बहाना होता है,
अगर चिराग किसी को जलाना होता है,
जुबानी दावे तो बहुत लोग करते रहते हैं
जुनू के काम को करके दिखाना होता है।

बैकुठपुर के कुछ युवा, उत्साही व प्रबुद्ध वर्ग के लोगों के लिए एक चुनौती सा था। लेकिन जिस मुहिम को लेकर शहर का यह वर्ग आगे बढ़ा अब हर चुनौती इन लोगो के सामने बेमानी सी लग रही है।

दरअसल बैकुंठपुर के 6 नवयुवकों की सड़क हादसे में मौत के बाद शहर के समाजसेवी संजय अग्रवाल ने शहर में नशा मुक्ति अभियान और नशे के कारोबारियों को जड़ से उखाड़ने चलाने का आहवान किया तो पहले पहल यह लगा कि यह मुहिम भी अन्य महीमो की तरह सोशल मीडिया में लाइक और कमेंट्स की चमक बनकर रह जाएगा।

लेकिन लोग आते गए और कारवां बनता गया की तर्ज पर इस मुहिम में काफी बड़ा रंग ले गया है पहले स्थानीय अधिकारियों को इस संबंध में सचेत कराने के बाद संगठन के लोगों ने प्रभारी मंत्री व तीनो विधायक को भी अपनी इस मुहिम के बारे में अवगत कराया। जहां सभी ने इस मुहिम में हरसम्भव सहयोग का वादा भी किया।

नशा मुक्ति अभियान को परवान चढ़ता देख नशे के कारोबारियों के पैर उखड़ते नजर आ रहे हैं। बताया जाता है कि इस अभियान को देखकर फिलहाल इस धंधे में काफी मंदी छा गई है । लोगों का भी डर लग रहा है कि इस अभियान के कर्ता-धर्ता कहीं पुलिस को लेकर किसी भी क्षण कारवाही कराने आ सकते हैं।

बुधवार को इसी अभियान को लेकर शहर के संजय अग्रवाल, मनोज गुप्ता, विपिन बिहारी जायसवाल, राजेन्द्र सिंह, अमिताभ गुप्ता और कमलेश गुप्ता की टीम ने जिला कलेक्टर डोमन सिंह से मुलाकात की।

कलेक्टर ने इस संबंध में चिंता व्यक्त करते हुए हर संभव मदद का भरोसा दिलाया उन्होंने संजय अग्रवाल से वर्ष भर का नशा मुक्ति कार्यक्रम बनाने को कहा। उन्होंने कहा कि एक ही दिन सभी स्कूल, कालेज के बच्चों इसी सम्बन्ध में रैली निकाली जाएगी, जिसमें मैं शामिल रहूंगा। उन्होंने इस संबंध में समाज कल्याण विभाग के उप संचालक और सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग को बुलाकर संगठन के लोगों को हर संभव मदद देने की बात कही है।

बैठक में बैकुंठपुर की बेटी शिप्रा कन्नौजे को भी सम्मानित करने के लिए कलेक्टर महासमुंद को पत्र लिखने की बात कोरिया कलेक्टर ने कही। उल्लेखनीय है कि बीते दिवस कुरूद में सड़क हादसे में बैकुठपुर के 6 युवकों की मौत हो गई थी। जिसमें शिप्रा ने काफी मदद की थी।

नशा मुक्ति मंच की एक अहम बैठक गुरुवार 11 जुलाई को ग्रामीण बैंक के सामने संजय अग्रवाल के निवास स्थान पर रखी गयी है।अभियान की गति देख बैठक मे बड़ी संख्या में लोगो के शिरकत करने की संभावना व्यक्त की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *