Saturday, July 20, 2019
Home > Top News > महाशिवरात्रि, जन्माष्टमी, रामनवमी जैसे महा पर्वों पर इससे आता है समाज में क्षोभ …………..होना चाहिए प्रतिबन्ध

महाशिवरात्रि, जन्माष्टमी, रामनवमी जैसे महा पर्वों पर इससे आता है समाज में क्षोभ …………..होना चाहिए प्रतिबन्ध

महाशिवरात्रि, जन्मास्टमी, रामनवमी जैसे महापर्व पर के मौके पर ये नही होना चाहिए इससे आता है क्षोभ ….एसडीएम को ..मुख्यमंत्री ने नाम ज्ञापन

सारंगढ़ मुनादी।

छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले के सारंगढ़ से हिन्दुओ के प्रमुख पर्वो पर प्रदेश में मांस मदिरा की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई है। इस मुद्दे को सारंगढ़ विकास परिषद के तत्वाधान में उठाया गया। इसके बाद सारंगढ़ विकास परिषद के अजय गोपाल के नेतृत्व में यादव समाज और नगर वासियो द्वारा इसके समर्थन में एसडीएम को ज्ञापन सौंपा गया।

सारंगढ़ विकास परिषद के तत्वाधान में हिन्दुओ के प्रमुख पर्व के मौके मांस मदिरा में उपयोग होने और इससे समाज मे क्षोभ होने की वजह से यह मांग सारंगढ़ से उठी है। आपको बता दे कि वैष्णव सम्प्रदाय और शैव सम्प्रदाय इस मुद्दे को सोसल मीडिया में उठाते हुए हिदुओ के प्रमुख त्योहारों के मौके पर मांस मदिरा की बिक्री पर प्रतिबन्ध लगाने की माग की गई है। स्थानीय।सारंगढ़ स्तर पर सारंगढ़ विकास परिषद, यादव समाज और स्थानीय नगर के लोगो मे द्वारा इसे लेकर एसडीएम सारंगढ़ एसडीएम को ज्ञापन सौंप कर ध्यान अमृस्ट कराते हुए ऐसे मौक़े पर मांस मदिरा पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई है।
एसडीएम को मुख्यमंत्री के नाम सौंपे ज्ञापन में कहा गया है की कृष्ण जन्माष्टमी, महा शिवरात्रि, रामनवमी जैसे पर्व हिन्दुओ के प्रमुख पर्व है जो वैष्णव व शैव सम्प्रदाय के प्रमुख त्योहार हैं। यह पर्व पूरे प्रदेश में आस्था और श्रद्धा के साथ मनाया जाता है। ऐसे पर्व के अवसर पर मांस मदिरा की बिक्री होने से क्षोभ उतपन्न होता है। मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को सौंपे गए ज्ञापन में ऐसे पर्व के मौके पर प्रदेश में मांस मदिरा की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने की मांग की गई है।

सारंगढ़ विकास परिषद जीतू गुप्ता का कहना है इसे हर वर्ग के लोगो के बीच पहुंचकर इस मौके पर मांस मदिरा पर प्रतिबंध लगाने जनजागरूकता लाया जाएगा।

सारंगढ़ के न प के पूर्व अध्यक्ष अजय गोपाल का कहना है कि छत्तीसगढ़ के करोड़ो लोग इस पर्व को मनाते है और इस पर्व पर मांस मदिरा की वजह से समाज में क्षोभ आता है इसलिए इस प्रतिबन्ध की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंप कर प्रतिबन्ध की मांग की गईं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *