Monday, November 18, 2019
Home > समाचार > कुनकुनी आंदोलन के समर्थन में रायगढ़ जिले के उद्योगिक घरानों के भू अधिग्रहण पर एस आई टी से जांच की मांग, कहा ……

कुनकुनी आंदोलन के समर्थन में रायगढ़ जिले के उद्योगिक घरानों के भू अधिग्रहण पर एस आई टी से जांच की मांग, कहा ……

Munaadi News

 राबर्टसन मुनादी।

 

जिले में खरसिया छेत्र के आदिवासियों द्वारा विगत 18दिनों से कुनकुनी में अपने हितों की अनदेखी से नाराज हो आंदोलन करते हुवे क्षेत्र के कुछ ओद्योगिक घराने और रेल कारिडोर व एन टी पी सी के भू अधिग्रहण के बहाने आदिवासियों के पैतृक जमीनों के एवज में उन भोले भाले गरीब ग्रामीण आदिवासियों के साथ सरकार की सह पर किये जा रहे छलावे और दोहरे मापदंडों वाली नीति पर अपनी आपति दर्ज कराने प्रदेश आप पार्टी के सह संगठन मंत्री अमर अग्रवाल (खरसिया) ने मुख्यमंत्री डा रमन सिंह को एक पत्र लिख कर रायगढ़ जिले के औद्योगिक घरानों द्वारा अपने उद्योग लगाने के लिये आज तक की गई भू अधिग्रहण की जांच कराये जाने की मांग की है ।

अमर अग्रवाल ने मुख्य मंत्री को लिखे पत्र में रायगढ़ जिले में स्थापित उद्योगों के लिये बड़ी मात्रा में वहां बसे आदिवासियों की जमीनों का भी बेनामी अंतरण करवाये जाने का बड़ा आरोप लगाते हुवे इसकी निष्पक्ष जांच करवाने के लिये 15 दिनों में एस आई टी का गठन करवा कर जांच कराने की मांग की है ।
आप पार्टी के नेता अमर ने प्रदेश सरकार पर भी आदिवासियों के साथ दोहरे मापदंड अपनाने और उद्योगों को लाभ पहुंचाने का बड़ा आरोप लगाते हुवे कहा । कि अपने को आदिवासियों का मसीहा दिखाने सरकार एक ओर आदिवासियों की जमीन बेचने पर कानूनन प्रतिबंध लगाती है । तो दूसरी तरफ उद्योगिक घरानों की मसीहा बनकर उन्ही आदिवासियों की पैतृक धरोहर को भू अर्जन के नाम पर बेनामी अंतरण करवाने की खुली छूट दे रखी है । रायगढ़ जिले में स्थापित उद्योगों की हकीकत की यदि सरकार ईमानदारी पूर्वक एस आई टी बनाकर जांच करवाती है तो सभी उद्योगिक घरानों में ऐसे बेनामी सम्पत्ति के ढेरों प्रकरण खुल कर सामने आ जायेँगे ।

अमर ने कहा की आगामी विधान सभा चुनाव में आप पार्टी आदिवासियों के हितों से जुड़े इस बड़े मुद्दे को जोर शोर से उठायेगी । और सरकार के द्वारा इस मुद्दे पर हीलाहवाली की गयी तो हम न्यायालय की शरण लेकर आदिवासियों को उनका हक दिलवाने का काम करेंगे ।

munaadi ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *