Thursday, April 25, 2019
Home > Top News > बिना जानकारी के किसान के खाते से निकल गए बोनस के पैसे ,शिकायत हुई तो खाते में पैसा वापस आ गया

बिना जानकारी के किसान के खाते से निकल गए बोनस के पैसे ,शिकायत हुई तो खाते में पैसा वापस आ गया

जगदलपुर बस्तर से धर्मेंद्र  सिंह की मुनादी

 

छतीसगढ़ में किसानों को ठगने का अधिकारी कोई जुगाड़ नही छोड़ते है ऐसा ही एक नया मामला बस्तर जिले में आया है धान बोनस की राशि बिना जानकारी के दो किसानों के खाते से निकालने की अधिकारियों से शिकायत के बाद चमत्कारिक रूप से गुरुवार को उनके खाते में करीब 54 हजार रुपए वापस आ गए। हालांकि राशि निकालने और जमा करने वाले का अब तक पता नहीं चल सका है। इधर कलक्टर धनंजय देवांगन के निर्देश के बाद जिला विपणन अधिकारी आरबी सिंह ने जांच शुरु कर दी है।

बैंक में मौजूद सीसीटीवी कैमरे के फूटेज खंगाली जा रही है

जांच अधिकारी आरबी सिंह ने बताया है कि नानगुर के किसान बुधूराम के खाते से 15 हजार रुपए और चमरु के खाते से 39 हजार रुपए अज्ञात व्यक्ति ने निकाला था। इसका पता लगाने बैंक में मौजूद सीसीटीवी कैमरे के फूटेज खंगाली जा रही है। किसानों से मिले शिकायत पत्र के मुताबिक उनकी गैर मौजूदगी व बिना खाता के अज्ञात व्यक्ति को बोनस राशि देने की शिकायत की गई है। यदि एेसा है तो यह बैंकिग नियमों के विपरीत और किन परिस्थितियों की गई है। इस संबंध में बैंक शाखा प्रबंधक, शाखा लेखापाल, बैंक कैशियर, समिति प्रबंधक व लेखापाल को नोटिस जारी जवाब मांगा है।

  1. यह है मामला 

13 अक्टूबर को बोनस तिहार के दिन 54 हजार रुपए किसान बुधूराम और चमरु के खाते में ऑनलाइन जमा कराया था। 16 अक्टूबर को यह राशि निकाल ली गई और किसानों को पता भी नहीं चला। मामले से अनजान किसान जब 21 अक्टूबर को बोनस राशि निकालने के लिए बैंक पहुंचे तो उनके खाते से बोनस राशि निकालने की जानकारी मिलते ही वे सन्न रह गए। मायूस किसानों ने इसकी शिकायत 23 अक्टूबर को कलक्टर और बैंक से की थी। 26 अक्टूबर को राशि खाते में जमा कर दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *