Press "Enter" to skip to content

खुलकर उद्योगों के खिलाफ मैदान में उतरे नंदकुमार साय, सरपंचों को कर रहे हैं संगठित, कहा- नही सफल होने देंगे जनसुनवाई …..पढ़िये पूरी खबर

जशपुर मुनादी।।

रायगढ़ जिले के पूंजीपथरा में अगले महीने की 25 नवंबर को अजय इंगार्ड रोलिंग मिल सहित तीन उद्योगों के बंजारी मंदिर प्रांगण के पास होने वाले जनसुनवाई में कोरोना का हवाला देकर केवल 100  ग्रामीणों को शामिल करके होने वाली जनसुनवाई की जानकारी होने पर राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के पूर्व अध्यक्ष डॉ नंदकुमार साय बुरी तरह भड़क गए और उन्होंने चुनौती दी है कि किसी भी प्रकार से यह जनसुनवाई अवैध रूप से नहीं होने दिया जाएगा।

रायगढ़ जिले में बढ़ते प्रदूषण और सड़कों के गड्ढे एवं खनन कार्य से होने वाले आदिवासियों एवं ग्रामीणों के जनजीवन अस्त व्यस्त हो जाने को लेकर नंद कुमार साय ने चिंता व्यक्त की है इस मामले को लेकर उन्होंने रायगढ़ कलेक्टर भीम सिंह से भी बात की और उक्त जनसुनवाई को किसी भी हाल में निरस्त करने की बात कही साथ ही नंद कुमार साय ने कहां है कि बस अब बहुत हो गया चाहे कोई भी कंपनी हो नियम विरुद्ध जनसुनवाई का फर्जीवाड़ा करके अब रायगढ़ में किसी भी प्रकार की नकारात्मक औद्योगिक गतिविधि को बिल्कुल भी पनपने नहीं दिया जाएगा।

वह स्वयं उस क्षेत्र के सरपंचों को संगठित करके अगले माह प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने वाले हैं तथा किसी भी हाल में आदिवासियों की भूमि का दोहन कर उन्हें प्रदूषित नहीं होने के लिए प्रतिबद्धता की बात कही है चाहे उन्हें क्यों ना स्वयं आंदोलन में उतरना पड़े. फिलहाल उनकी इस गतिविधि को लेकर औद्योगिक कंपनियों में हड़कंप मच गया है

Munaadi Ad Munaadi Chhattisgarh Govt Ad

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *