Thursday, October 1, 2020
Home > Top News > शिक्षाकर्मियों ने कहा—-” हम विवश हैं “

शिक्षाकर्मियों ने कहा—-” हम विवश हैं “

Munaadi News

शिक्षाकर्मियों ने कहा-“हम विवश हैं”

योगेश यादव की मुनादी

शिक्षक पंचायत नगरीय निकाय मोर्चा के प्रांतीय आह्वान पर छत्तीसगढ़ के 146 विकासखंडों में अनिश्चितकालीन आंदोलन का आगाज हो चुका है।ज्ञात हो कि अनिश्चितकालीन आंदोलन के घोषणा के बाद दो दौर  का वार्ता शासन प्रशासन के बीच हो चुका है।  दिनांक 19 /11/17 को प्रांतीय संचालकों एवं विभागीय सचिव सम्माननीय एम. के . राउत विकासशील एवं छत्तीसगढ़ शासन के माननीय मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह जी से वार्ता हुई, वार्ता बेनतीजा होने के कारण शिक्षक पंचायत नगरीय निकाय मोर्चा के प्रांतीय आह्वान पर पूरी तैयारी के साथ आर- पार की लड़ाई के लिए बगीचा विकासखंड के सभी पंचायत संवर्ग शिक्षक एकजुट होकर अनिश्चितकालीन हड़ताल में शामिल हो चुके हैं ।

ज्ञातव्य हो कि जब तक शासन मूल मांग संविलियन को नहीं मानती है , तब तक पूरे प्रदेश के शिक्षक पंचायत संवर्ग हड़ताल वापस लेने के मूड में नहीं है। शिक्षक पंचायत संवर्ग  *वेतन विसंगति, समान कार्य समान वेतन, क्रमोन्नति, खुली स्थानांतरण नीति, सी .पी. एस .कटौती, अनुकंपा नियुक्ति सहित 9 सूत्रीय मांग* को लेकर शासन से कई बार चर्चा परिचर्चा कर चुके हैं ,किंतु शासन आज तक पंचायत संवर्ग के शिक्षकों की मांगों पर विचार नहीं कर पाई है। विवश होकर पूरे प्रदेश के पंचायत   संवर्ग  के शिक्षक शाला में तालाबंदी करने का निर्णय ले लिए हैं । आंदोलन बहुत ही वृहद रूप  धारण कर  चुकी है । ब्लॉक संचालक महानंद सिंह एवं बालदेव ग्वाला ने संयुक्त रुप से प्रेस विज्ञप्ति जारी करके यह बताया कि किसी भी परिस्थिति में संविलियन सहित नौ सूत्री मांगों के पूरा नहीं होने तक हड़ताल की वापसी नहीं होगी।सतीश शुक्ला,कुशो राम यादव, अफ़ज़ल ईमान नितिन मिश्रा सुनील देवांगन ओर प्रदीप यादव ने भी इन बातों का समर्थन किया ।

Munaadi Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

//graizoah.com/afu.php?zoneid=3585386