Wednesday, March 20, 2019
Home > Slider > इस काम के लिए टीआई ने लिए तीन हजार रिश्वत, आडियो क्लिप से घूंस लेने का हुआ खुलासा ……….

इस काम के लिए टीआई ने लिए तीन हजार रिश्वत, आडियो क्लिप से घूंस लेने का हुआ खुलासा ……….


0 डोंगरपाली चौकी प्रभारी फिर उगाही का आरोप


रायगढ़ मुनादी।

डोंगरपाली टीआई जयसिंह खुटे के खिलाफ पहले से ही 60 हजार रुपए घूंस लेने की जांच चल रही है। आरोपों की जांच में घूसखोरी लगभग साबित भी हो गया है। रिपोर्ट एसपी कार्यालय तक नहीं पहुंचने के कारण विभागीय कार्रवाई नहीं हो पाई है। वे एक बार फिर मवेशियों को ओड़िसा पार कराने तीन हजार रुपए रिश्वत लेकर बुरी तरह फंस गए हैं। घूसखोरी का खुलासा ऑडियो क्लिपिंग से हुआ है। पिहरा थाना सरिया निवासी राजकुमार मवेशियों की खरीदी बिक्री का धंधा करता है। वह महीने में चार बार मवेशियों को बार्डर करता है। सोमवार को 16 भैसों को बार्डर पार करने से पहले से टीआई खुटे को फोन से जानकारी दी, तब टीआई ने उससे खर्चा पानी देने को कहा। सोमवार सुबह 10 से साढ़े 10 बजे के करीब लीमपाली चौकीदार को लेकर थाना आया और टीआई को 3000 रुपए दिया। दिलचस्प बात यह है कि टीआई के कहने पर कोचिया गांव के रास्ते हर बार मवेशियों को सरहद पार करने की बात कही। बीते रविवार की रात भैसों को लेकर निकला था। किसी को खबर न लगे इसलिए जंगल के रास्ते के गांव धौरदरहा, कलखुटा, लीमपाली, बनवासपाली, झाल पहुंचते सुबह हो गया था। ओड़िसा बार्डर झाल से कुछ ही दूरी पर होने के कारण कोचिया टीआई खुटे को बरसाए लक्षमी की मेहरबानी के चलते अपने मकसद पर कामयाब हो गया।
भैसों ने खोली टीआई के झूठ की पोल
इधर मवेशी ले जाने व रिश्वत के बारे में टीआई खुटे से पूछा गया तो हड़बड़ा गए सफाई देते हुए झूठ की पुलिंदा बांध दिया। उन्होंने सीनातान के कहा कि अब उनके क्षेत्र से मवेशी ओड़िसा पार नहीं हो रहा है। जिन दावे के साथ खुटे मवेशी पार नहीं हो बताया उसकी पोल सोमवार को झाल के पास से होकर ले गए भैसों ने खोल दिया।
टीआई पर खूब बरस रहा धन
मालूम हो कि टीआई खुटे के खिलाफ कई शिकायतें सामने आ चुकी है, जिसमें इन्होंने किसी से पैसा न लिया हो। बीते 7 जनवरी को बेंगची निवासी दुलार सिंह साहू को मवेशी तस्कर बता बेदम पीटा और थाना में बिठा दिया था। 60 हजार लेने के बाद छोड़ा। इस घटना के चश्मदीद उसका बड़ा भाई शक्र जीत और महर्षि है। मामले की शिकायत पर सारंगढ़ एसडीओपी जांच कर रहे हैं। दूसरी घटना महुआ शराब जब्ती की है। मंगलदास खड़िया के घर पुसपुन्नी के दिन पुलिसकर्मियों ने शराब बिक्री करते रंगे हाथ पकड़ा था। करीब 16 लीटर जब्त किया था। टीआई पर तीन पाव की जब्ती और 20 हजार रुपए लेने का फम्भीर आरोप है। इस तरह टीआई जयसिंह खुटे पर लष्मी मेहरबान है और धन की खूब वर्षा हो रही है।
कोलकाता के कत्लखाने में कट रहे मवेशी
कोठीखोल के जंगल के शार्टकट रास्ते से मवेशी सरहद पार हो रहे हैं। एकमात्र डोंगरीपाली चौकी पड़ता है। चौकी प्रभारी को मवेशी तस्करों ने महीने का दक्षिण बांध रखा है। जिसके चलते बेझिझक मवेशियों को कोलकाता के कत्लखाना भिजवाने में सफल हैं। जिन मवेशियों को सोमवार ले जाया गया, उसमें बूढ़े और बहुत ही कम उम्र के भैंसा थे। कोचिया राजकुमार कत्लखाना ले जाने की बात को नकारते हुए ओड़िसा के मवेशी दलाल पर सारा ठीकरा फोड़ दिया।

ऑडियो मुनादी के पास है।


क्या कहते हैं टीआई
मेरे चौकी क्षेत्र से मवेशी नहीं पार हो रहा है। पिछली बार की कार्रवाई के बाद मवेशी पार होना बंद हो गया है। रही बात सोमवार को मवेशी पार करने के एवज में 3000 रुपए रिश्वत लेने आरोप की तो यह सरासर गलत है। कोचिया से मवेशी पार करने जैसी बात ही नहीं हुई है।
.जयसिंह खुटे, टीआई डोंगरीपाली थाना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *