Sunday, February 23, 2020
Home > Top News > ये श्रद्धांजलि है या वोटाँजली ? आदर्शपुरुष की श्रद्धाजंलि में हंसते-खिलखिलाते और सेल्फी लेते भाजपाईयों की सोशल मीडिया पर वायरल होती तस्वीरों का सच

ये श्रद्धांजलि है या वोटाँजली ? आदर्शपुरुष की श्रद्धाजंलि में हंसते-खिलखिलाते और सेल्फी लेते भाजपाईयों की सोशल मीडिया पर वायरल होती तस्वीरों का सच

Munaadi News

 

 

 

श्रद्धांजलि के नाम पर सियासत की मुनादी।।

 

 

भाजपा के पितृ पुरुष पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा में भाजपाईयों के अंदर शोक कम खुशी की लहर ज्यादा दिख रही है। अटलजी की अस्थि कलश को लेकर हंसते खिलखिलाते और मस्ती में सेल्फी लेते भाजपाईयों की तस्वीर सोशल मीडिया में जोर से वायरल हो रही है और लोग इसे भाजपाईयों की बेहयाई की पराकाष्ठा बता रहे हैं । अटल जी जैसे सख्शियत की मृत्यु के बाद पूरा देश शोक में डूबा है ।प्रदेश और केंद्र दोनो की सरकारे देश मे 7 दिनों का शोक मना रही है।इस बीच पूरे देश मे अटल जी की अस्थि को लेकर श्रद्धांजलि दी रही है लेकिन इस महान नेता की शोक श्रद्धांजलि में उभरकर आने तस्वीरों को देखकर यही लगता है कि अटल जी की मृत्यु से पूरा देश शोक में डूबा है सिवाय भाजपाईयों के ।दो दिन पहले राजधानी रायपुर में अटलजी की श्रद्धांजलि सभा मे हंसते खिलखिलाते और तालियां बजाते प्रदेश के दो दिग्गज मंत्रियों की बोलती तस्वीरों को भला किसने नही देखा ।इसके बाद अटलजी की अस्थि कलश यात्रा में रायगढ़ और जशपुर से भी वैसी ही तस्वीरे आनी शुरू हुई जिसे सोशल मीडिया में जमकर वायरल किया जा रहा है । विपक्षी पार्टी कांग्रेस पहले ही बोल चूकी है कि भारतीय जनता पार्टी अटल जी की श्रद्धाजंलि का राजनीतिकरण कर रही है । सोशल मीडिया में तस्वीरे वायरल होने के बाद राजधानी रायपुर के पूर्व महापौर किरण मयी नायक ने कहा कि यह अटलजी की श्रद्धाजंलि नही भाजपा का वोटाजंली कार्यक्रम है ।

 

munaadi ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

[bws_google_captcha]