Saturday, July 20, 2019
Home > Top News > अंततः फेडरेशन ने किया आन्दोलन का शंखनाद, कर दी तिथियों की घोषणा, मैराथन बैठक के बाद हुआ फैसला

अंततः फेडरेशन ने किया आन्दोलन का शंखनाद, कर दी तिथियों की घोषणा, मैराथन बैठक के बाद हुआ फैसला

Munaadi News

 

रायपुर मुनादी ।।

 

 

छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन” ने सभी 27 जिला अध्यक्ष, “प्रांतीय संयोजक मण्डल” एवं “प्रांतीय कोर कमेटी” के सभी सदस्यों की आपसी सहमति पर आज अपनी चार सूत्रीय मांगों को लेकर बहुप्रतीक्षित आंदोलन की घोषणा कर दी है ।
आंदोलन समिति” के प्रांतीय प्रभारी मनीष मिश्रा, प्रांतीय संयोजक जाकेश साहू, शिव सारथी, रंजीत बनर्जी, इदरीस खान, अजय गुप्ता, छोटेलाल साहू, अश्वनी कुर्रे, संकीर्तन नन्द, सीडी भट्ट, बसंत कौशिक एवं हूलेश चन्द्राकर ने “प्रेस एवं इलेक्टानिक मीडिया” को संयुक्त बयान जारी कर हड़ताल की अधिकृत घोषणा करते हुए बताया कि प्रदेश भर के एक लाख नौ हजार सहायक शिक्षक एलबी / पंचायत संवर्ग अपनी लम्बित चार सूत्रीय मांगों को लेकर राजधानी रायपुर के ईदगाह भांठा मैदान में आगामी 25 सितम्बर से संभागवार क्रमिक, अनिश्चित कालीन आंदोलन करेंगे।

01) 25 सितम्बर – दुर्ग संभाग।
02) 26 सितम्बर – रायपुर संभाग।
03) 27 सितम्बर – बिलासपुर संभाग।
04) 28 सितम्बर – बस्तर संभाग।
05) 29 सितम्बर – सरगुजा संभाग।
06) 30 सितम्बर – सभी पांचो संभाग।
07) 01 अक्टूबर – दुर्ग संभाग।
08) 02 अक्टूबर – रायपुर संभाग।
09) 03 अक्टूबर – बिलासपुर संभाग।
10) 04 अक्टूबर – बस्तर संभाग।
11) 05 अक्टूबर – सरगुजा संभाग।

यह बात उल्लेखनीय है कि संविलियन में भारी विसंगति से नाराज प्रदेशभर के एक लाख, नौ हजार सहायक शिक्षक एलबी / पंचायत संवर्ग राज्य सरकार से खासे नाराज है साथ ही अपनी मांगों की पूर्ति के लिए ये अपने पुराने संघो को त्यागपत्र देकर “छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन” के बैनर तले लगातार आंदोलनरत है। विगत 10 अगस्त को रायपुर में जंगी धरना रैली कर चुके है। 28 अगस्त को भी सभी 27 जिला मुख्यालयों में जोरदार धरना प्रदर्शन और रैली किया गया था। इसी प्रकार विगत 5 सितम्बर को काली पट्टी लगाकर विरोध प्रदर्शन किए थे।

 

पिछले दिनों प्रदेश के मुख्यमंत्री से मिलकर अपनी चार सूत्रीय मांगों को रखे थे जिसमें ठोस आस्वासन मिला था लेकिन अब तक मांगो के सम्बंध में कोई आदेश जारी नहीं होने से “फेडरेशन” ने एक बार फिर आन्दोलन का एलान किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *