Press "Enter" to skip to content

अंधविश्वास की ऐसी कहानी जिसे सुनकर कांप जाएगी रूह, प्रिंसिपल दंपती ने अपने ही बेटियों को… वजह जानकर…. पढ़िए पूरी खबर

मुनादी डेस्क।। देश में अंधविश्वास से जुड़ी खबरें आए दिन सामने आती रहती हैं। जो लोगों को चौंका दें। लेकिन लोगों को ज्ञान का प्रकाश देने वाले शिक्षक ही अगर अंधविश्वास में फंस जाए तो क्या हो। ऐसा ही एक चौकाने वाला मामला आंध्र प्रदेश के चित्तूर में सामने आया है। जहां एक प्रिंसिपल दंपति अपनी ही बेटियों को मौत के घाट उतार दिया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी मां ने अपनी दोनों बेटियों पर डंबल से हमला कर उनकी जान ले ली. आरोपियों के नाम पद्मजा और पुरुषोत्तम नायडू बताया जा रहा है। वहीं मृतकों की पहचान अलेख्या और साई दिव्या के रूप में हुई है।

अच्छे पदों पर हैं दंपती

जानकारी के अनुसार चित्तूर जिले के मदनापल्ले कस्बे में रहने वाले एक दंपती ने अपनी ही बेटियों की हत्या कर दी। आस-पास वालों से मिली जानकारी के अनुसार प्रिसिंपल दंपति अंधविश्वास के चक्कर में पड़ गए. पद्मजा IIT गोल्ड मेडलिस्ट हैं और मदनपल्ली इलाके में आईआईटी कोचिंग सेंटर चला रही हैं. जबकि पुरुषोत्तम नायडू सरकारी कॉलेज के प्रिंसिपल हैं। बावजूद इसके उन्होंने इस तरह की वारदात को अंजाम दिया है।

कारण जानकर रह जाएंगे हैरान

पुलिस ने बताया कि आरोपी दंपती को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस अपराध के बाद उन्हें थोडा भी अफसोस नहीं है। वहीं पुलिस ने जब हत्या का कारण पूछा तो, जवाब सुनकर सब भौचक्के रह गए। दंपती ने बताया कि कलयुग खत्म हो रहा है और सोमवार को सतयुग शुरू होगा। ऐसे में उनकी दोनों बेटियां सूरज उगने के साथ ही जीवित हो उठेंगी। पुलिस ने आरोपी दंपति को हिरासत में लेकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। साथ ही पुलिस मामले की जांच में जूटी है।

Munaadi Ad Munaadi Ad Munaadi Chhattisgarh Govt Ad

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *