Press "Enter" to skip to content

Breaking jashpur : कभी ऐसी अफरा तफरी नहीं देखी होगी ! न डर,न खौफ, दिन दहाड़े चल रहा है ये काम ! फोटो हुआ वायरल, अधिकारियों तक भी पहुँचा फोटो, फिर ……

जशपुर मुनादी ।।

जशपुर जिले के फरसाबहार ब्लॉक से दिन दहाड़े पंचायत के पीडीएस गोदाम से राशन की अफरा तफरी के रोचक तस्वीर सामने आए आ रहे है।इस तस्वीर में एक पिक अप में पीडीएस गोदाम गझियाडीह से चावल लोड करते हुए साफ देखा जा रहा है।

खास बात ये कि ये तस्वीर न केवल सोशल मीडिया में वायरल हो रहे हैं बल्कि प्रशानिक अधिकारियों को भी इन तस्वीरों को भेजा दिया गया है।ग्रामीणों ने बाकायदे एसडीएम फरसाबहार और फूड इंस्पेक्टर को लिखित में शिकायत करते हुए बताया कि गझिया डीह में सरेआम डंके की चोट पर सरकारी चावल की अफरा तफरी हो रही है और राशन के हकदार हितग्राहियों को राशन नही मिल रहा है।

शासकीय राशन दुकान से चावल ले जाते मजदूर गंझिया डीह

शिकायत में बताया गया है कि गझियाडीह ग्राम पंचायत के 80 लोगो को इस माह राशन नही दिया गया है ।पंचायत के आश्रित पारा औंरीजोर में एकमुश्त 30 हितग्राही हैं जिन्हें राशन नही मिला बाकी नचायत के अन्य बस्ती के है।

फरसाबहार के फ़ूड इंस्पेक्टर ने बताया कि ग्रामीणों ने चावल की अफरा तफरी होने की तस्वीर सहित उन्हें शिकायत पत्र दिया है ।शिकायत के आधार पर मामले की जाँच की जाएगी।

बताया जाता है कि यहाँ के पीडीएस के संचालन की जिमेदारी यहाँ के सरपँच को दी गयी है याने सरपँच ही पीडीएस के कर्ता धर्ता हैं ।सरपँच जयकृष्ण साय से जब सम्पर्क किया गया गया तो उन्होंने बताया – अफरा तफरी की बात गलत है । चावल पीडीएस गोदाम से पंचायत के स्कूलों में भेजा जा रहा था जिसका फोटो खींच लिया गया ।और केवल 12 लोग हैं जिन्हें राशन नही मिला है क्योंकि चावल खराब हो गया है इसलिए हितग्राही खुद चावल नहीं लिए ।

पंचायत के पूर्व सरपंच मुक्तेश्वर साय का कहना है – स्कूलों में पंचायत चावल नहीं भेजती ।स्कूल के लोग मध्याह्न भोजन के लिए चावल अपनी व्यवस्था /संसाधन से ले जाते हैं ।

इस पंचायत के स्कूल के शिक्षकों से भी सम्पर्क किया गया तो उन्होंने बताया कि स्कूल अपनी संसाधनों से चावल मंगवाता है पीडीएस वाले चावल छोड़ने स्कूल नहीं आते ।

Munaadi Ad Munaadi Chhattisgarh Govt Ad

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *