Press "Enter" to skip to content

जशपुर में’ कांग्रेस विधायक ‘के मुद्दे पर दो खेमे में बंटी भाजपा ? सांसद के तीखे बयान के बाद विधायक का दुर्गा पंडाल में हुआ …..रावण वध ……

जशपुर मुनादी//
रावण वध करने को लेकर अब विधायक यू डी मिंज और सांसद गोमती साय के बीच धारदार सियासत शुरू हो गयी है वही इस मुद्दे पर कुनकुरी एक एकजुट भाजपाईयों में भी फुट पड़ती दिख रही है ।

फुट लिखना इसलिए जरूरी हो गया है कि सनातन धर्म दुर्गा पूजा समिति के तकरीबन डेढ़ सौ सदस्यों में से अधिकांश लोग भाजपा समर्थक और शुद्ध रूप से भाजपाई कहलाने वाले हैं और उनकी ओर से विधायक से रावण वध कराए जाने पर पूरी सहमति दिख रही है वही भाजपा का एक खेमा और स्वयं सांसद गोमती साय विधायक द्वारा रावण दहन कराए जाने का खुलकर विरोध कर रहे हैं। मंगलवार को मुनादी डॉट कॉम से औपचारिक चर्चा में सांसद गोमती साय ने सनातन धर्म दुर्गा पूजा समिति पर सीधा हमला करते हुए यहाँ तक कह दिया कि समिति ने चंदे की ख़ातिर धर्म और संस्कार को बेच दिया है । सांसद के इस बयान के बाद भी समिति के सदस्यों पर कोई असर होता नहीं दिखा बल्कि सनातन धर्म दुर्गा पूजा समिति के लोगो ने मंगलवार की शाम को पंडाल में पहुँचे विधायक यू डी मिंज का पूरे गर्मजोशी से स्वागत किया ,समिति के सदस्यों ने विधायक के साथ ग्रुप में फोटो खिंचवाये इतना ही नही पूरे मंत्रोच्चारण के साथ विधायक के माथे पर कुमकुम का टीका लगाया गया और हाथ मे मौली धागा बांधा गया । विधायक यु डी मिंज मंगलवार की शाम राजधानी रायपुर से कुनकुरी पहुँचे और थोड़ी देर के बाद काँग्रेस के जिलाध्यक्ष और दर्जन भर समर्थकों के साथ दुर्गा पंडाल पहुंच गए ।वहाँ पहुंचते ही समिति के अध्यक्ष और सदस्यों ने विधायक का पुरजोर स्वागत किया और पूरे विधि विधान से उनका चंदन वंदन और मौली धागा बांधा गया ।

माना जा रहा था कि रावण वध को लेकर चल रहे विवादों के कारण विधायक दुर्गा पंडाल नहीं जाएंगे और अगर चले भी गए तो सांसद के तीखे तेवर के बाद माहौल कुछ बदला बदला सा होगा लेकिन ठीक इस सोंच के विपरीत हुआ ।

 मंगलवार की शाम को दुर्गा पंडाल का दृश्य देखकर यह तो साफ हो गया कि रावण वध और मुख्य अतिथि को लेकर चल रहे विवाद का समिति के निर्णय पर कोई फर्क पड़ने वाला नहीं है और यह भी स्पष्ट हो गया है कि इस मुद्दे पर कम से कम कुनकुरी भाजपा दो खेमे में जरूर बंट गया है। एक खेमा जो सनातन धर्म दुर्गा पूजा समिति के सदस्य और पदाधिकारी है वे विधायक के समर्थन में है और दूसरा खेमा विधायक के विरोध में ।

 बहरहाल आगामी 15 अक्टूबर को कुनकुरी खेल मैदान में रावण दहन होना है और देखने वाली बात यह होगी कि आखिरी पल में यहाँ की सियासत किस करवट बैठती है।

Munaadi Ad Munaadi Ad

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *