Friday, January 24, 2020
Home > Raigarh > यह भ्रष्टाचार है या कमाल ? पानी के अंदर बना दी करोड़ों की सड़क, न उधर किसी को जाना है न……. पढ़िए पूरी खबर

यह भ्रष्टाचार है या कमाल ? पानी के अंदर बना दी करोड़ों की सड़क, न उधर किसी को जाना है न……. पढ़िए पूरी खबर

रायगढ़ मुनादी।

जिले के सारंगढ के मल्दा के पास से मुख्यमंत्री ग्राम सड़क एवं विकास योजना के तहत साढ़े 7 करोड़ की लागत से सड़क बना रहे हैं। सड़क का निर्माण ऐसे कराया जा रहा है इससे देखकर लगता है कि ये इंडिया नही बल्कि दुबई में सड़क बन रही है। दरअसल जो सड़क बनाई जा रही है वह अमलीडीपा जलाशय के बीच से होकर बनाया जा रहा है। लोगों का कहना है कि जिस तरह से सड़क का निर्माण किया जा रहा है यह सीधे सीधे इतनी बड़ी भारी भरकम राशि का बंदरबाट किया जा रहा है। खास बात ये है कि इस काम के ठेकेदार अशोक केजरीवाल हैं। इस मामले में एक बात यह भी सामने आ रही है कि एक भाजपा नेता के पुत्र के क्रेशर तक पहुंच मार्ग के लिए यह सब किया जा रहा है।

Munaadi Ad
जलाशय के बीच से निर्माणाधीन सड़क

फिलहाल स्थानीय लोगो का कहना है कि पहली बार ऐसा सड़क का निमार्ण का काम देख रहे हैं। सड़क जब बनना शुरू हुआ तब क्षेत्र के लोगो ने समझा कि इस सड़क का निर्माण मल्दा के बंजारी मंदिर के पास से शुरू होकर सीधे चंद्रपुर और बरमकेला के विश्वासपुर और मानिकपुर निकलेगा लेकिन जब अमलीडीपा बांध के बीच से एक ऐसा सड़क बनाया जा रहा है । सड़क का निर्माण बांध के बीच सीने यानि पानी को चीरते हुए सड़क बन रहा है। इस सड़क में बन जाने से भी कहा जा रहा है कि इसका उपयोग स्थानीय बमुश्किल साल के 4-5 माह से ज्यादा नही कर सकेंगे क्योंकि जलाशय में पानी कम तो गर्मी में ही हो सकेगा शेष समय यह सड़क पानी मे डूबे रहेगी। और जिस तरह से सड़क का निर्माण किया जा रहा है बहोत ज्यादा दिनों तक यह सड़क भी टिक नही पायेगा।

खास बात ये है कि मुख्य मंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बन रही इस सड़क के निर्माण को देखकर कोई भी सहज अनुमान लगा सकता है कि किस तरह से ठेकेदार और जनप्रतिधि कि मिली भगत से साढ़े 7 करोड़ की राशि को कमाई का जरिया बना लिया गया।

munaadi ad

One thought on “यह भ्रष्टाचार है या कमाल ? पानी के अंदर बना दी करोड़ों की सड़क, न उधर किसी को जाना है न……. पढ़िए पूरी खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

[bws_google_captcha]