Wednesday, March 20, 2019
Home > Slider > 9 माह से नहीं सहायिका- कार्यकर्ता, न गर्म भोजन, न पौस्टिक आहार, दस्तावेज में सब कुछ ओके, ऐसा विभाग की जिम्मेदार ……………

9 माह से नहीं सहायिका- कार्यकर्ता, न गर्म भोजन, न पौस्टिक आहार, दस्तावेज में सब कुछ ओके, ऐसा विभाग की जिम्मेदार ……………



नौनिहालों को हो रही परेशानी के पीछे क्या है अधिकारियों की मंशा ?

धरमजयगढ़ /खरसिया मुनादी ।

ग्राम नवागांव में एक आंगनबाड़ी में 6 जून से ना तो कार्यकर्ता है और ना ही सहायिका। वहीं दूसरी आंगनबाड़ी में 1 जनवरी से कार्यकर्ता नहीं है। ऐसे में नौनिहालों को ना तो शिक्षा दीक्षा प्राप्त हो पा रही है और ना ही भोजन। महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों एवं सुपरवाइजर को इन नौनिहालों से कोई वास्ता ही नजर नहीं आ रहा।

आपको बताएं यूं तो इन आंगनबाड़ियों के लिए कार्यकर्ता एवं सहायिकाओं के लिए वैकेंसी निकाली गई परंतु अब तक कोई नियुक्ति अधिकारियों द्वारा नहीं दिया जाना संशय से की परिधि में हैं। बहरहाल सप्ताह भर से कार्यकर्ता एवं सहायिका विहिन आंगनवाड़ी में नौनिहालों को खाना तक नहीं मिल पा रहा है। ताज्जुब की बात है कि इतना सब कुछ होने पर भी महज आड़पथरा की कार्यकर्ता को अतिरिक्त प्रभार देकर महिला एवं बालविकास अधिकारी तथा जनपद के महानुभावों ने पल्ला झाड़ लिया है। नन्हे नन्हे बच्चों को जब पूछा गया कि आपकी मैम कहां हैं तो उन्होंने बताया कि यहां कोई मैडम नहीं होती। एक सहायिका को आंगनबाड़ी केंद्र में मीडिया के आने की खबर मिलने पर अन्य आंगनबाड़ी सहायिका पहुंची और उन्होंने स्पष्ट किया कि गैस खत्म हो जाने के कारण सप्ताह भर से बच्चों को भोजन नहीं दिया जा रहा है। ऐसे में यह प्रश्न उदित होता है कि जब सप्ताह भर से भोजन एवं अन्य सुविधाएं तथा गर्भवती माताओं को महतारी जतन योजनाओं का लाभ कैसे मिल पा रहा होगा ? जबकि सुपरवाइजर द्वारा सब कुछ अपटूडेट शो कर दिया जाता है, वहीं विभाग को गुमराह कर शासन की हितग्राही मूलक योजना का पलीता बना दे रहे हैं तथा हितग्राहियों को नुकसान पहुंचाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *