Saturday, September 22, 2018
Home > Slider > खुड़िया दीवान की जब जाति पर उठे सवाल तो मच गया बवाल, पढिये अब क्या बोल रहे हैं  खुड़िया समर्थक?

खुड़िया दीवान की जब जाति पर उठे सवाल तो मच गया बवाल, पढिये अब क्या बोल रहे हैं  खुड़िया समर्थक?

बगीचा मुनादी ।।

 

वर्षो से एकता ओर सामाजिक मजबूती की मिसाल माने जाने वाले कोरवा जनजाति समुदाय अब 2 भागो में बंटता हुआ दिख रहा है । दो दिन पहले सरगुजा के सिलसिला में आयोजित कोरवा समाज के सम्मेलन में बघेल क्षत्रीय का मुद्दा उठाकर खुड़िया दीवान प्रदीप नारायण सिंह को घेरने वाले कोरवा नेता रामप्रसाद कोरवा के बयान पर आज बवाल मच गया। कोरवा नेता का बयान ओर सिलसिला में आयोजित कोरवा सम्मेलन में किये गए एलान की खबर जब मुनादी डॉट कॉम में प्रकाशित हुई तो समाज मे हलचल सी मच गयी और समाज के लोग आपात बैठक के लिए बगीचा में इकट्ठे होने लगे ।थोड़ी देर बाद जब इनकी बैठक शुरू हुई तो बैठक शुरू होते ही कोरवा नेता प्रसाद पर राजनीतिक हमला शुरू कर दिया गया । बैठक में मौजूद सामाजिक लोगो ने खुड़िया दीवान कि जाति पर सवाल उठाने को लेकर काफी नाराज दिखे और यह फैसला लिया कि बगीचा में आगामी 15 जनवरी को होने वाले कोरवा महा सम्मेलन में इस नेता का असलियत सबको बताया जाएगा । उन्होंने कहा कि रामप्रसाद जिस कोरवा समुदाय का सबको प्रदेश अध्यक्ष बताते हैं उस नाम का कोई सामाजिक संगठन ही नही है ।उन्होंने कहा कि  हमारा एक पारंपरिक ढांचा है जो समाज की विसंगतियों को ध्यान में रखकर उन खामियों को दूर करने हेतु संघर्ष कर  रहा है। हमारा कोई इस तरह के नाम का संगठन ही नही है। और हमे किसी संगठन की कोई जरुरत ही नही पड़ी।  जशपुर की रैली के बाद लगातार  उटपटांग हरकतें इस समाज को आहत कर रही हैं । यहां मौजूद कोरवा समाज के नेताओं ने कहा कि 15 जनवरी की रैली में सब भ्रम को खत्म कर दिया जाएगा और इनकी असलियत क्या है यह सबको बताया जाएगा ।

समाज के बीच लगातार इस तरह की राजनीति करने से समाज को कमजोर हतोत्साहित करनेन की  कोशिश की बू आ रही है इसलिए समाज इस नेता को  दरकिनार कर अपने उद्देश्यों को लड़ रहा है।

 

कोरवा समाज के प्रतिनिधियों में  खुड़िया दीवान प्रदीप नारायण सिंह ,दिलवर बाबा,सावन राम, जयनाथ राम (शोभा) बुधराम(कुटमा) बगीचा से मोहर साय पूरे बगीचा से क्षेत्रीय सामाजिक प्रतिनिधि उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *