Monday, December 17, 2018
Home > Slider > सीटें घटने का अनुमान लगा तो सरकार मनाने लगी तिहार, चुनाव के अंतिम साल में याद आयी जनता

सीटें घटने का अनुमान लगा तो सरकार मनाने लगी तिहार, चुनाव के अंतिम साल में याद आयी जनता

 

सत्ता के चालों की मुनादी

 

जब रमन सरकार ने अपना जमीनी हकीकत जानने सर्वे करवाया तब उसके नीचे से जमीन खिसक गई। तब सरकार के सिपहसालारों ने सरकार को जनता से जोड़ने के लिए तिहार का खाका तैयार किया ताकि लोगों को यह बतायी जा सके कि सरकार जन हितैषी है और वह लोगों के लिए चिंतित है। इस आपाधापी में बिजली बिल बढ़ाकर सरकार ने बिजली तिहार भी मना लिया।
सूत्रों के अनुसार सरकारी सर्वे में सरकार को ज्यादा सीटें मिलती हुई नहीं दिखी। हालांकि लोगों में यह स्पष्टता नहीं दिखा कि इस सरकार का विकल्प कौन है लेकिन सरकार के विरोध में ज्यादातर लोग दिखे। सिक्सटी प्लस का टारगेट लेकर चुनाव लड़ने का दावा करने वाली भाजपा के खाते में बहुमत के आसपास के सीटों के लाले पड़ गए। सबसे ज्यादा नाराज चूंकि किसान थे इसलिए सरकार ने सबसे पहले बोनस तिहार मनाने की घोषणा की। वैसे सरकार ने 4 साल पहले बोनस और धान के समर्थन मूल्य बढ़ाये जाने का वादा लोगों से किया था लेकिन सरकार जब तक आश्वस्त थी तब तक किसानों को एक अधेला बोनस नहीं दिया गया। उल्टा एक एक धान ख़रीदने का वादा करने वाली सरकार ने प्रति एकड़ 15 क्विंटल धान ही किसानों से खरीदने का नियम बना दिया इससे भी किसान नाराज थे।

बिजली बिल बढ़ाया और मनाया बिजली तिहार

 बिजली के दामों में पिछले 4 सालों में के गुना बढ़ोतरी हुई है। हालात यह है कि घर की बिजली बिल देखकर ऐसे लग रहा है जैसे घर में कोई मिल लगी हुई हो। लेकिन इसके खिलाफ लोग नहीं बोल रहे हैं। तिहार जब मनाने की बात आई तो बिजली तिहार भी मन दिया गया, यह कहकर कि सभी गांव टोला पारा में बिजली सरकार ने पहुंचा दी। इसके एवज में कितना बिल बढ़ दिया इसकी कोई बात नहीं हुई।

प्रधानमंत्री आवास का बढ़ाया टारगेट

सरकार ने अचानक प्रधानमंत्री आवास के लिए अधिकारियों को टारगेट दे दिया है। अधिकारी इस योजना के लिए जमीन ढूंढ रहे हैं और ज्यादा से ज्यादा हितग्राही तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं। हालांकि इस योजना का बहुत ही सकारात्मक असर भी ग्रामीणों में दिखाई देता है। घर बनाये जाने से ग्रामीण खुश है, यह अलग बात है कि यह खुशी वोट में बदलती भी है या नहीं इसकी कोई गारण्टी नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *