Home > Jane tum

चिट्ठी ना कोई सन्देश,जाने वो कौन सा देश जहाँ तुम चले गए इस दिल पे लगा के ठेस जाने वो कौन सा देश जहां तुम चले गए

------------------------------------- 0 सरल व सशक्त ब्यक्तित्व के धनी त्रिलोचन लहरे ----------------------   बचपन की कुछ यांदे आज भी मन को उमंगित करता है ।बचपन में अक्सर पिता के पास रोकर किसी भी बात को मनवा लेना बड़ी बात नहीं होती है पर युवा अवस्था में पिता से कह पाना भी संभव नहीं होता है

Read More