Sunday, May 20, 2018
Home > Slider > जब पहली कक्षा की दिव्यांग सूरजपति की आँखों में छलक आये आंसू ……..

जब पहली कक्षा की दिव्यांग सूरजपति की आँखों में छलक आये आंसू ……..

पहाड़ी कोरवा दिव्यांग सूरजपति को आखिरकार ट्रायसाइकिल मिल ही गया । सूरजपति पहली कक्षा की छात्रा है ।दो दिन पहले स्कूलों का निरीक्षण करने गए बगीचा जनपद अध्यक्ष प्रदीप नारायण दीवान से उसने ट्रायसीकिल की गुहार लगाई थी ताकि उसकी शिक्षा में कोई बाधा न हो ।मुनादी डॉट कॉम ने इस खबर को प्राथमिकता से प्रकाशित किया था । आज सूरजपति को आखिरकार ट्रायसीकिल दे दिया गया

गौरतलब है कि —-
मंगलवार को बगीचा विकासखण्ड क्षेत्र अंतर्गत शासकीय प्राथमिक शाला एवं शासकीय अनुसूचित जनजाति बालक आश्रम रंगापाठ के औचक निरिीक्षण में जनपद पंचायत अध्यक्ष दीवान प्रदीप नारायण सिंह पहुंचे। जनपद पंचायत अध्यक्ष ने निरीक्षण के दौरान आश्रम व स्कूल के व्यवस्था देख प्रसन्न हुये ।ज्ञात हो की बगीचा के जनपद पंचायत अध्यक्ष प्रदीप नारायण दीवान इन दिनों विकासखण्ड क्षेत्र में शिक्षा का स्तर बढ़ाने के उद्देश्य से स्कूलों एवं छात्रावासें में औचक निरिक्षण के लिये पहुंच रहे हैं।इसी तारतम्य में मंगलवार को बगीचा के जनपद पंचायत अध्यक्ष ग्राम पंचायत रंगापाठ स्थित शासकीय प्राथमिक शाला एवं शासकीय अनुसूचित जनजाति बालक आश्रम पहुंचे। अध्यक्ष के द्वारा किये गये निरीक्षण में स्कूल एवं छात्रावास की व्यवस्था संतोषजनक पाया गया है।वहीं स्कूल में शिक्षा का स्तर देख अध्यक्ष श्री दीवान अत्यंत ही प्रसन्न हुये और बच्चों को कुछ देर अध्यापन कार्य करा बच्चों से सवाल किये जिसका जवाब बच्चों के द्वारा सटीक दिये जाने से अध्यक्ष श्री दीवान के द्वारा शिक्षा का स्तर सही होने का बात कहा गया। इस दौरान श्री दीवान के द्वारा अध्यापकों सहित बच्चों को स्वच्छता सहित शौचालय के उपयोग के संबंध में विस्तार से बताते हुये जागरूक किया गया। तत्पश्चात छात्र व छात्राओं से उनका हाल पूछा तभी कक्षा 1ली में अध्ययनरत छात्रा सूरजपति कोरवा के द्वारा विकलांग होने की बात बताते हुये अध्यक्ष श्री दीवान से स्कूल आने के लिये एक ट्रायसायकल उपलब्ध कराने का निवेदन किया।छात्रा ने बताया की वह बचपन से ही विकलांग है और लकड़ी के सहारे किसी प्रकार स्कूल तक पहुंच रही है वह आगे मन लगा कर पढ़ना चाहती है। छात्रा की बात सुनकर अध्यक्ष श्री दीवान ने जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को निर्देशित किया कि कागजी कार्यवाही तत्काल पूरा कर बच्ची को ट्रायसाईकल दिया जाए।वही मंडल संयोजक को निर्देशित किया कि दिव्यांग बच्चों को मिलने वाली सुविधा से विकाश खंड के सभी बच्चो को समाज कल्याण विभाग से लाभ दिलाया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *