Tuesday, January 16, 2018
Home > Slider > घर को लगा दी आग घर के चिराग ने, दुर्ग हत्याकांड का सच सामने आया तो …,,,

घर को लगा दी आग घर के चिराग ने, दुर्ग हत्याकांड का सच सामने आया तो …,,,

 

दुर्ग मुनादी

 

दुर्ग पुलिस ने नगपुरा स्थित विश्व प्रसिद्ध जैन मंदिर के ट्रस्टी और उनकी पत्नी की सनसनीखेज हत्या की गुत्थी सुलझा ली है। इस दोहरे हत्याकांड का आरोपी कोई और नही बल्कि जैन दम्पत्ति का पुत्र ही निकला।
पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, मृतक जैन दम्पत्ति का पुत्र संदीप जैन  बेहद  बिगड़ैल, होने के साथ -साथ उसमें कई प्रकार की बुरी लत थी।

इन सब बातों को लेकर आरोपी को मृतक दम्पत्ति समझाते रहते थे, इसी बात को लेकर आये दिन विवाद होता था।
इस सनसनीखेज दोहरे हत्याकांड की जांच में दुर्ग पुलिस ने मृतक जैन दम्पत्ति के घर मे लगे सीसीटीवी के फुटेज खंगाले जिससे पता चला कि बीती रात घर मे कोई भी संदिग्ध ने प्रवेश नही किया है। जब दुर्ग पुलिस ने इस बात की आरोपी संदीप जैन से कड़ी से पूछताछ की तो उसने भी अपना जुर्म कबूल कर लिया।

दुर्ग पुलिस के सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी ने देसी पिस्तौल से अपने पिता रावलमल पर दो और अपनी माता सुरजी बै पर तीन फायर किए जिससे उनकी घटनास्थल पर ही मौत हो गयी। दुर्ग पुलिस देर शाम प्रेस कांफ्रेंस में इसका खुलासा करेगी।
ज्ञात हो कि, पाश्र्व जैन तीर्थ नगपुरा के संस्थापक, मशहूर समाजसेवी रावलमल जैन और उनकी पत्नी सुरजी बाई जैन की नए साल की अल सुबह घर में गोली मारकर बेरहमी से हत्या कर दी गई थी।

बता दे कि जैन समाज के अलावा रावलमल जैन की पहचान समाजसेवी के रूप में पूरे प्रदेशभर में थी।
मृतक जैन दम्पत्ति रावलमल जैन और उनकी पत्नी की हत्या के आरोपी उनके अपने ही बेटे संदीप के होने से पूरा समाज हतप्रभ है।  इंदिरा मार्केट और गंजपारा में ज्यादातर जैन व्यापारी सोमवार को व्यावसायिक प्रतिष्ठान नहीं खोलेंगे।
दोहरे हत्याकांड की सूचना मिलते ही आईजी दीपांशु
काबरा, एसपी अमेरश मिश्रा, एएसपी शशिमोहन सिंह, ग्रामीण एएसपी डीआर पोर्ते ,क्राइम ब्रांच प्रभारी रोहित मालेकर सहित पुलिस के आला अधिकारी घटना स्थल पर पहुंच गए थे। इस डबल मर्डर केस में पुलिस को मृतक के बेटे संदीप जैन पर संदेह था । आईजी दीपांशु काबरा और एसपी अमरेश मिश्र संदीप जैन से पूछताछ करने में जुटे थे। आरोपी संदीप जैन शादीशुदा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *