Monday, June 25, 2018
Home > Slider > संजीवनी 108 का ड्राइवर बीमार बच्चे को तड़पता छोड़ शराब पीने में मस्त रहा ,बच्चे की हो गई मौत जानिए,फिर क्या हुआ?

संजीवनी 108 का ड्राइवर बीमार बच्चे को तड़पता छोड़ शराब पीने में मस्त रहा ,बच्चे की हो गई मौत जानिए,फिर क्या हुआ?

कोरबा से बीता चक्रवर्ती की मुनादी

 

 

मरीजों को आपात स्थिति में अस्पताल पहुंचाने वाली सरकारी एम्बुलेंस सेवा संजीवनी 108 के ड्राइवर ने ऐसी लापरवाही बरती की इलाज के लिए तड़प रहे बच्चे ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। मृत बच्चे के परिजनों ने बताया की पीलिया से पीड़ित उनके बेटे की गंभीर स्थिति को देखते हुए कोरबा के जिला अस्पताल के डाक्टरों ने उसे बिलासपुर के सिम्स ले जाने को कहा था। आनन फानन में पीलिया पीड़ित बच्चे को संजीवनी की मदद से सिम्स ले जाया जा रहा था लेकिन संजीवनी चला रहे शराबी ड्राइवर को रास्ते में शराब पीने की ऐसी चाह लगी की वो एम्बुलेंस को छत्तीसगढ़ के रतनपुर के खंडोबा मंदिर के पास सड़क किनारे खड़ा करके दो घंटे तक शराब पीता रहा। परिजनों ने जब ड्राइवर को जल्दी चलने को कहा तो उसने ज्यादा नशा हो जाने की बात कहते हुए इंतज़ार करने को कहा। इसी बीच इलाज के लिए तड़पते बच्चे ने सिम्स पहुंचने से पहले ही दम तोड़ दिया। 17 साल का मृत बालक अजय दास बालको के नेहरू नगर का रहने वाला था और हफ्ते भर से पीलिया और टाइफाइड से पीड़ित था। बीते 24 सितम्बर को उसे गंभीर हालत में जिला चिकित्सालय में दाखिल कराया गया था जिसे डाक्टरों ने गुरुवार की सुबह 11 बजे बिलासपुर के सिम्स रिफर कर दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *