Wednesday, January 17, 2018
Home > Slider > शून्य में वापस होने की सजा तो सुन लो, दिल दहल जायेगा साहेब

शून्य में वापस होने की सजा तो सुन लो, दिल दहल जायेगा साहेब

 

छत्तीसगढ़ मुनादी

इधर शून्य में शिक्षाकर्मियों का आंदोलन भी खत्म हो गया और आंदोलन खत्म होते ही सरकार ने शिक्षाकर्मियों को आंदोलन करने की सजा सुना दी । आंदोलन खत्म होते ही सरकार ने शाला संचालन में बृद्धि के आदेश जारी कर दिए हैं ।नए आदेश के मुताबिक अब हर रोज प्रातः 9;30बजे से शाम 4:30बजे तक स्कूल खोले जाएंगे ।इतने दिनों के शिक्षाकर्मी हड़ताल के चलते छात्रों के अपूर्ण कोर्स को पूरा कराने के लिए शनिवार को भी 9:30 बजे से 4:30 बजे तक शाला संचालन करने को कहा गया है और छुट्टी के दिन भी अतिरिक्त कक्षा लेने के आदेश जारी किए गए हैं ।
शिक्षाकर्मी संघ शासन के इस आदेश से सहमत तो नही है लेकिन शासन के इस आदेश को लेकर ज्यादा कुछ कहने की स्थिति में नही हैं
गौरतलब है कि काफी हाई वोल्टेज ड्रामा चलने के बाद सोमबार देर रात को कई दिनों से सरकार के खिलाफ संविलियन को लेकर जहर उगलने वाले शिक्षाकर्मी मोर्चा ने अचानक आंदोलन समाप्ति की घोषणा कर दी थी । सरकार संविलियन के मुद्दे पर अपनी जगह से टस से मस नही हुई जबकि शिक्षाकर्मी मोर्चा ने सरकार की सख्ती के आगे हथियार डाल दिए ।हांलाकि संघ के नेताओं ने अभी तक यह स्वीकार नही किया है कि उन्होंने सरकार की सख्ती के आगे झुके हैं उनका कहना है कि उन्होंने छात्रों के भविष्य को देखकर उन्होंने आंदोलन खत्म करने का फैसला लिया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *