Wednesday, November 21, 2018
Home > Slider > इन बेजुबानो के मौत का कौन है जिम्मेदार, बेतरतीबी से हो रहे मौतों पर उठ रहे सवाल

इन बेजुबानो के मौत का कौन है जिम्मेदार, बेतरतीबी से हो रहे मौतों पर उठ रहे सवाल

 

बलरामपुर-राजपुर से रंजीत सोनी की मुनादी।।

 

 

आज लगातार सड़कों पर कई सड़क हादशे गाय,बैल,बकरी व कुत्तों को बचाने के कारण होते हैं।राजपुर नगरपंचायत में गौ पालकों ने अपनी सारी हदें पार कर दी है ,ये लोग सिर्फ अपने स्वार्थ पुर्ती के लिए गाय-बैलों को पाल रहे हैं,ईन्हे सिर्फ ईनसे मिलने वाले फायदों से सरोकार है, ईनका देखभाल सही ढ़ंग से नही कर रहे हैं।गौ पालक ईन्हे खिलाने पिलाने में असमर्थ साबित हो रहे हैं, जिससे ईन्हे आवारा ढ़ंग से शहरों में विचरण कर अपनी भुख मिटाना पड़ रहा है और रात्रि में ईनका विश्राम का ठिकाना सड़क ,चौक चौराहा व सड़क किनारे बने दूकानो के सैड में होता है।

रात में भारी वाहनो का आवागमन बहुतायत रुप से होता है सड़कों पर अपना बसेरा बनाये ईन बेजुबान जानवरों को ईनका शिकार होना पड़ता है,ऐसा ही घटना हमे लगातार दो-तिन दीनो से देखने को मिल रही है जहां भारी वाहनों की ठोकर से कई गौं की जान चली गई है,ईन गौं के पालक ईतने लापरवाह हैं की ईनकी पता साजी भी नही करते हैं कि,हमारे मवेशी हैं कहां…?ईन मृत गौं की स्थिति ऐसी हो जाती है कि सड़क पर पड़े पड़े कुत्ते भी नोच नोच कर खा जाते हैं।

राजपुर नगरपंचायत के द्वारा ऐसे आवारा हुए पशुओं के लिए कांजी हाऊस का निर्माण कराना चाहिए और पशु मालिकों पर ऊपर शख्ती से जुर्माना दण्ड लगाना चाहिए।जो कि हमारे नगरपंचायत में ऐसी व्यवस्था नही दी गई है ,यहां के अधिकारि व जनप्रतिनिधि के द्वारा कोई भी प्रयास नही किया जा रहा है।

पुलिस प्रसाशन के द्वारा भी सड़कों पर घुम रहे आवारा पशुओं के प्रति कोई ठोस कदम नही ऊठाया जा रहा है ,आज कई शहरों और छेत्रों में गौ रक्षकों की फोटो जनिक कहानियां शोशल मिडीया पर वारल होतीं हैं लेकिन वासतविक में क्या है देखना अभी शेष है।
.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *