Monday, April 23, 2018
Home > Slider > सुरेशपुर गांव मामले में शांति, सीमांकन के बाद मंदिर की जमीन का बढ़ा रकबा, गांव के लोगो की अधिकारियों ने कराई बैठक

सुरेशपुर गांव मामले में शांति, सीमांकन के बाद मंदिर की जमीन का बढ़ा रकबा, गांव के लोगो की अधिकारियों ने कराई बैठक

 

पत्थलगांव मुनादी।।

ग्रामिणो के बीच अधिकारी
बैठक में उपस्थित ग्रामीण

 

सुरेशपुर में मन्दिर की मूर्ति तोड़े जाने के मामले के बाद प्रशासन ने जहां लॉ एंड ऑर्डर के लिए गांव में लगातार पुलिस फोर्स तैनात कर रखा था जिसके बाद आज प्रशासन के अधिकारी जिसमे एसडीएम पी वी खेस एसडीओपी तस्लीम आरिफ थाना प्रभारी नरेंद्र त्रिपाठी आज सुरेशपुर गांव पहुंचे जहां आरआई पटवारी पहले से समस्त संसाधनों के साथ मौजूद थे । जहां उपस्थित अधिकारियों ने ग्रामीणों के साथ शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए एक महत्वपूर्ण बैठक की जहां उपस्थित एसडीएम,एसडीओपी ने ग्रामीणों को आपसी सौहाद्र बनाये रखने अपील भी की ।
जिसके बाद अधिकारियों ने बारी बारी से सभी से मन्दिर घटना के बारे बात की इस दौरान पूरे मामले में सभी ने एक राय होकर कहा कि मंदिर से किसी को कोई आपत्ति नही है वहीं कुछ लोगों ने मंदिर के अगल बगल अपनी भूमि होने का दावा किया जिसके बाद एसडीएम के आदेश पर पूरे क्षेत्र की चौहदी की नपाई की गई इस दौरान सुरेशपुर के समस्त ग्रामीणों के साथ अगल बगल के भूमि स्वामी भी मौजूद रहे जिनके सामने राजस्व कर्मचारियों ने रिकॉर्ड के आधार पर वास्तविक नपाई किया । जहां कर्मचारियों ने सारी समस्या सुलझा दी।

मन्दिर की जमीन निकली और अधिक —
सुरेशपुर गांव में हुए घटना के बाद प्रशासन के सामने
कुछ लोगों ने जमीन की बात लाई तो पटवारी और आरआई ने ग्रामीणों और अधिकारियों के समक्ष जब चारों तरफ की जमीन की नपाई की तो मन्दिर की जमीन वास्तविक गांव के रिकार्ड में मिली और जब मन्दिर की जमीन नाप की गई तो मन्दिर के पीछे पूरी 5 डिसमिल भूमि मन्दिर के नाम से निकली जिसके बाद मौके पर पंचनामा तैयार कर अधिकारियों के समक्ष रखा जहां सभी ने अपने हस्ताक्षर कर विवाद सुलझा लिया जिसके बाद ग्रामीणों ने मन्दिर की वास्तविक भूमि पर चिन्हांकन कर घेरा भी लगा दिया । जिसके बाद वहां की जमीन का विवाद सुलझ गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *