Friday, May 24, 2019
Home > Top News > आखिरकार चिखली मामले में न्यायालय के आदेश पर दर्ज हुवा एफआईआर ….पंच सरपंच दम्पत्ति….. पंचायत की राशि ……….

आखिरकार चिखली मामले में न्यायालय के आदेश पर दर्ज हुवा एफआईआर ….पंच सरपंच दम्पत्ति….. पंचायत की राशि ……….

रायगढ़ मुनादी।

पंच-सरपंच दंपति के विरूद्ध आखिरकार न्यायालय के आदेश पर धोखाधड़ी का अपराध कायम कर लिया है। यहां के तत्कालीन सरपँच व पंच दम्पत्ति के खिलाफ 420, 409, 467, 468, 471, 34 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया ।

       दर असल इस मामले में करवाई न होने पर परिवादी सुग्रीव किसान निवासी ग्राम पंचायत चिखली थाना पुसौर द्वारा अधिवक्ता के माध्यम से न्यायालय पुष्पलता मारकण्डे, न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी रायगढ के न्यायालय में परिवाद प्रस्तुत किया गया है । मामले में माननीय न्यायालय द्वारा अनावेदकों के विरूद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कर मामले का अन्वेशण कर अंतिम प्रतिवेदन प्रस्तुत करने हेतु थाना प्रभारी पुसौर को निर्देशित किये हैं। जिसके परिपालन में दिनांक 03.12.18 को थाना पुसौर में अनावेदकगण (1) श्रीमति सरस्वती सिदार पति रवि शंकर सिदार उम्र 42 साल (2)  रवि शंकर सिदार पिता नंद लाल सिदार उम्र 45 साल (3)  श्रीमति लता साव पति अशोक साव उम्र 28 साल (4) अशोक साव पिता गणेश साव उम्र 35 साल के विरूध्द अप.क्र. 254/18 धारा 409, 420, 467, 468, 471,34 भा0द0वि0 पंजीबध्द कर विवेचना मे लिया गया ।
परिवादी के आवेदन अनुसार सुग्रीव किसान ग्राम पंचायत चिखली में सचिव के पद दिसम्बर 2012 से अक्टूबर 2017 तक पदस्थ था । उस समय ग्राम पंचायत चिखली की सरपंच श्रीमति सरस्वती सिदार थी, उसका पति रवि शंकर सिदार अपनी पत्नी की हैसियत से कार्य करता था । उसी प्रकार ग्राम पंचायत चिखली के वार्ड क्र0 04 की निर्वाचित पंच श्रीमति लता साव थी परंतु ग्राम पंचायत पंच वार्ड क्र. 4 के कार्यो का संपादन उसका पति अशोक साव करता था। अनावदेकगण मिलकर ग्राम पंचायत निधि से बिना प्रस्ताव के बैंक से रूपये आहरण कर लेते थे, जब परिवादी उसका विरोध करता था तो उसे डराते धमकाते थे, परिवादी ने कई बार इसकी शिकायत की थी, कार्यवाही नहीं होने पर सुग्रीव किसान द्वारा परिवाद माननीय न्यायालय में प्रस्तुत किया गया, जिस पर अनावेदकों के विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध कर कार्यवाही की जा रही है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *