Monday, April 23, 2018
Home > Slider > अरे ! यहां तो सूखा पड़ा है ! जानिए क्या है “आर्थिक सूखे” की वजह ?

अरे ! यहां तो सूखा पड़ा है ! जानिए क्या है “आर्थिक सूखे” की वजह ?

खुर्शीद कुरैशी की मुनादी।।

 

जशपुर जिले के अधिकांश ग्रामीण बैंक और एटीएम इन दिनों कैशलेश के दौर से गुजर रहे है। बैंक से जुड़े ग्राहकों को अपने ही पैसों के लिए बैंकों में लंबी लाइनें लगानी पड़ रही है और हैरान कर देने वाली बात यह है कि लंबी कतार में घण्टो लगने के बाद भी कई ग्रहको को पैसे नही मिल पा रहे हैं । जिला मुख्यालय स्थित ग्रामीण बैंकों की बात करे तो यहां के अधिकांश बैंक इन दिनों डब्बे की शक्ल में तब्दील  हो गए हैं । नोटबंदी के दौर के बाद यह पहला मौका जब ग्राहकों को खुद के पैसे लेने में इतनी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है । इधर एसबीआई शाखा के एटीएम की बात करें तो जिले में स्थित सौ से भी ज्यादा एटीएम या तो बन्द पड़े होते हैं या फिर यहां कतार इतनी लंबी होती है कि जिन्हें तत्काल रुपयों की जरूरत होती है वे लाईन में खड़े होने की सोच भी नही पाते ।

  ग्राहकों को परेशानी में डालने वाली एक बात और है वो ये कि इन्हें कोई भी उस बात क ाभरोसा दिलाने तैयार नही कि इतने दिनों में परेशानी खत्म हो जाएगी । दरअसल बैंक के अधिकारियों को भी नही पता कि बैंकों में पैसों को लेकर आखिर इतनी मारा मारी कब खत्म होगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *