Monday, December 10, 2018
Home > Slider > अब तो हम भी बोलेंगे -“हमारी पार्टी को वोट मत देना ” अपने ही पार्टी के खिलाफ जहर उगल रहे बीजेपी समर्पित …

अब तो हम भी बोलेंगे -“हमारी पार्टी को वोट मत देना ” अपने ही पार्टी के खिलाफ जहर उगल रहे बीजेपी समर्पित …

एक समय मे विपक्ष तक कि बोलती बंद रखने वाली भारतीय जनता पार्टी को न जाने किसकी नजर लग गयी है कि विपक्ष क्या अपने पक्ष के लोग ही पार्टी  के खिलाफ रोज जहर उगल रहे हैं ।

जशपुर मुनादी ।।

 

इस बार दुलदुला जनपद पंचायत के पूर्व जनपद अध्यक्ष व वर्तमान में दुलदुला जनपद क एक बेजेपी समर्थिते बीडीसी की जबरदस्त नाराजगी उभरकर सामने आयी है ।इनका कहना है कि जिस पार्टी के बिधायक,सांसद और मंत्री मिलकर गाँव की जनता का छोटा सा काम नही करा सकते उस पार्टी को वोट देना मतलब कीमती मत को बर्बाद करना है ।

 

छोटा सा काम नही हो सकता इनसे तो वोट क्यों ?

 

सेघनाथ सिदार वर्तमान में दुलदुला जनपद पंचायत मे भाजपा समर्थित जनपद सदस्य हैं ।इनका आरोप है कि कुनकुरी बिधायक रोहित साय के दत्तक ग्राम जमपानी ( दुलदुला )में ग्रामपंचायत के सरपंच सचिव के द्वारा गरीबो को दिये जाने वाले चावल में भारी हेराफेरी की कई शिकायतों के बाद भी कोई कार्यवाही नही हो रही है ।ग्रामीणों को मिलने वाले राशन भ्र्ष्टाचार के भेंट चढ़ रहे है ।इसको लेकर ग्रामीणों ने शिकायत तो की ही इसके अलावा उन्होंने इसकी जानकारी क्षेत्र के बिधायक  ओर केंद्रीय मंत्री तक को दिया लेकिन उनकी शिकायतों को भी अनसुना कर दिया गया । उन्होंने कहा -” आम जनता के सामने हम पार्टी के नाम पर वोट मांगने जाते हैं और जनता हमे वोट देकर जनप्रतिनिधि बनाती है लेकिन यह जनता का दुर्भाग्य है कि हम जनप्रतिनिधि उनकी उम्मीदों पर खरे नही उतर पा रहे ।उन्हें अपने हक़ के अनाज के लिए सरकारी अधिकारी और मुझे अपने बड़े नेताओं के चक्कर काटने पड़ रहे हैं ।

सिदार ने आगे कहा कि पार्टी से बड़ी जनता होती है पहले जनता फिर पार्टी ।अगर हम जनता की उम्मीदों पर खरे नही उतरते तो कोई हमे वोट क्यों दे ,हम भी कहेंगे “वोट मत देना”

 

बगावत करने वाले तीसरे बीडीसी

 

हम आपको बता दें कि अपने ही पार्टी के खिलाफ बगावत का बिगुल फूंकने वाले सेघनाथ सिदार तीसरे जनपद सदस्य है ।इससे पहले फरसाबहार के जनपद सदस्य गोपाल कश्यप और कुनकुरी जनपद के बीडीसी विष्णु गुप्ता ने जुबान खोली थी। विष्णु गुप्ता ने तो बिधायक रोहित साय के विरुद्ध सीधे वादाखिलाफी का आरोप लगा दिया था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *