Friday, December 14, 2018
Home > Slider > खनिज न्यास फंड पर बोली बहुरानी “खनिज न्यास का फंड केवल पूल-पुलिया के लिए नही होता” अब इस फंड का उपयोग …..

खनिज न्यास फंड पर बोली बहुरानी “खनिज न्यास का फंड केवल पूल-पुलिया के लिए नही होता” अब इस फंड का उपयोग …..

जशपुर मुनादी ।।

 

बगीचा के ऐतिहासिक जल सत्याग्रह में नायिका बनकर हजारो लोगो  के लिए वरदान साबित होने वाली जशपुर रियासत की बड़ी बहू प्रियम्बदा अब पूरे जिले में जल के लिए विशेष अभियान छेड़ने जा रही है । गर्मी के मौसम जिले के शहरी क्षेत्रों में पानी की समस्या को देखते हुए बहुरानी ने जिले के जनप्रतिनिधियों के साथ मिलकर जलसंकट से निजात दिलाने को विशेष अभियान के रूप में ले रही है । इसकी शुरुआत जशपुर शहर से होगी और इसके सभी नगरी निकायों में भी इस अभियान को लागू किया जाएगा । इस संबंध में  प्रियम्बदा ने मुनादी डॉट कॉम को बताया कि बढ़ती गर्मी के बीच जिले में बढ़ते जल संकट को देखते हुए  जलसंकट से मुक्ति के लिए जिले के सभी जिलाप्रतिनिधियों के साथ एक बैठक की जाएगी और जिले के लोगो को पर्याप्त मात्रा में पानी उपलब्ध कराने की योजना बनाई जाएगी । उन्होंने आगे बताया कि सरकार के पास  खनिज न्यास जैसी कई योजना है जिससे लोगो के लिए पानी का बेहतर इंतज़ाम किया जा सकता है ।खनिज न्यास का उद्देश्य ही ऐसी बुनियादी सुबिधाओं को मुहैया कराकर विकास से जनमानस को जोड़ना है । खनिज न्यास का फंड केवल पूल पुलिया के लिए नही होता ।पूल – पुलिया  के आगे भी पानी जैसी बुनियादी सुविधाओं की सख्त जरूरत है इसलिए खनिज न्यास का फंड जलावर्धन के उपयोग में लाया जाए ताकि खनिज न्यास फंड का सही उपयोग हो सके ।उन्होंने भरोसा जताया कि आम जनता को पीने के लिए पानी मुहैया कराने जैसे पुनीत कार्य के लिए शासन और प्रशासन किसी को एतराज नही होगा ओर सभी आगे बढ़कर इस मकसद को कामयाब होंने में उनका साथ देंगे ।

 

   हम आपको बता दें कि अभी बीते वर्ष जिले के बगीचा में डोडकी नदी पर पूल बनाने के लिए पानी मे खड़े रहकर जलसत्याग्रह आंदोलन किया गया था ।इस आंदोलन को रोकने और पूल के संकट से लोगो को निजात दिलाने के लिए सीधे महल से निकलकर आंदोलनकारियों के बीच जा पहुची थी और पूरे विश्वाश के साथ पूल का भूमिपूजन करवाकर लोगो को भरोसा दिलाया था कि दोड़की नदी पर नहुत ही जल्द एक बड़ा पूल बनेगा ।इनके इस भरोसे पर लोगों ने आंदोलन स्थगित कर दिया था इज़के बाद सरकार ने न केवल यहां पूल बनाने की घोषणा की बल्कि पूल सेंक्शन भी हो गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *