Friday, September 21, 2018
Home > Slider > अब जशपुर चाय बगान का काम अधर में, बिना मजदूरी परेशान हैं समितियां

अब जशपुर चाय बगान का काम अधर में, बिना मजदूरी परेशान हैं समितियां

जशपुर मुनादी ।।

चाय बागान सारूडीह धसवा कोना में चाय बगान हेतु सामग्री क्रय किये जाने पर भुगतान अभी तक वन विभाग के द्वारा नहीं किया गया है। जिस कारण वन प्रबंधन समिति सारूडीह के अध्यक्ष को मानसिक रूप से प्रताड़ित होना पड़ रहा है। उक्त सामग्री के भुगतान यथाशीघ्र कराये जाने के लिये अध्यक्ष के द्वारा मंगलवार को जनदर्शन में जशपुर कलेक्टर को आवेदन देकर भुगतान कराने का मांग किया गया है।
ज्ञात हो की वन प्रबंधन समिति सारूडीह के अध्यक्ष अनिरूद्ध सिन्हा के द्वारा मंगलवार को जशपुर जनदर्शन में जशपुर कलेक्टर को आवेदन दिया गया है। जिसमें अंकित है की वर्ष 2014-15 को चाय बगान धसवाकोना के लिये सामग्री क्रय किया गया था।उक्त चाय बगान का कार्य मनरेगा के तहत चल रहा था जिसमें बिल वाएचर वन विभाग को उसी समय बना कर दिया गया लेकिन विभाग के द्वारा उक्त बिल का  गतान आज पर्यन्त तक नहीं किया गया है। तत्पश्चात वर्ष 2016-17 के अप्रेल मई माह में चाय के पौधे को सिंचाई हेतु टंकी का निर्माण कराया गया। इसके लिये पाईप खरीदी की गई जिसका भुगतान भी नहीं हो पाया है।उक्त कार्य के लिये अंबिकापुर से ड्रीप सप्लाई किया गया तथा मरम्मत भी कराया गया जिसका भी राशी वन विभाग के द्वारा प्रदाय नहीं किया गया है। जबकि सभी कार्य का मस्टर रोल एवं वाउचर वन परिक्षेत्र कार्यालय से वन मण्डल कार्यालय भेज दिया गया है।फिर भी भुगतान लंबित होने से उन्हें दुकानदारों से रोजाना भुगतान के लिये सुनना पड़ रहा है।वन प्रबंधन समिति सारूडीह के अध्यक्ष अनिरूद्ध सिन्हा के द्वारा जशपुर कलेक्टर को आवेदन देकर उक्त भुगतान को यथाशीघ्र कराये जाने का निवेदन किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *