Thursday, September 20, 2018
Home > Slider > “नगरपंचायत झूठ बोल रही है ” बस स्टैंड को निजी भूमि बताने पर फिर शुरू हुआ विवाद ,लोग पूछ रहे हैं ……..

“नगरपंचायत झूठ बोल रही है ” बस स्टैंड को निजी भूमि बताने पर फिर शुरू हुआ विवाद ,लोग पूछ रहे हैं ……..

कुनकुरी मुनादी ।।

नगरपंचायत कुनकुरी के बस स्टैंड को आधुनिक रूप देने में नगरपंचायत का कोई बहाना काम नही आ रहा है और लोग अब नगरपंचायत के खिलाफ एकजूट होने लगे हैं । शनिवार को सोशल मीडिया स्थानीय लोगो द्वारा नगरपंचायत के खिलाफ जमकर हल्ला बोला गया । स्थानीय लोग यह  आरोप लगा रहे थे कि नगरपंचायत जान बूझकर कुछ लोगो के दबाव में आकर कुनकुरी बस स्टेंड में दुकान नही बनाना चाहती जबकि जिले के अन्य नगरी निकाय ओर पंचायतों में दुकाने बना दी गई हैं । सोशल मीडिया में चल रहे पोस्ट ओर कमेंटबाजी को लेकर जब मुनादी डॉट कॉम ने नगरपंचायत से मामले की तस्दीक की तो नगरपंचायत सीएमओ ने मुनादी को बताया कि बस स्टैंड की जमीनी दस्तावेज में तकनीकी दिक्कत है जिसके चलते यहां आधुनिक दुकानों का निर्माण नही हो पा रहा है ।सीएमओ ने बताया कि बस स्टैंड की जमीन निजी भूमि है जिसके चलते यह सब दिक्कते आ रही हैं   । सीएमओ के इस बयान को जब मुनादी डॉट कॉम ने प्रकाशित किया तो बात और बढ़ गई और अब लोग नगरपंचायत से यह पूछ रहे हैं कि बस स्टैंड की जमीन जब निजी संपत्ति है फिर नगरपंचायत बस स्टैंड की दुकानों से किराया क्यों वसूलती है ?

 

बताया जाता है कि 1975 से पूर्व कुनकुरी बस स्टैंड वर्तमान के जयस्तम्भ चौक पर काबिज था ।1975 के बाद कुनकुरी के एक  स्थानीय जमींदार ने अपनी जमीन को इस बस स्टैंड को दान कर दिया उसके बाद यह बस स्टैंड यहां काबिज है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *