Thursday, June 21, 2018
Home > Slider > रतनजोत के बीज खाकर 9 बच्चे बीमार, बच्चों की उम्र 2 से 8 साल

रतनजोत के बीज खाकर 9 बच्चे बीमार, बच्चों की उम्र 2 से 8 साल

 

कोरबा से बीता की मुनादी ।।

 

ब्लॉक मुख्यालय करतला से 17 किमी दूर ग्राम चैनपुर के सौरापारा मोहल्ले में संचालित आगनबाड़ी केंद्र के 9 बच्चे आज बुधवार को रतनजोत के बीज खाने के बाद बीमार हो गए है।
पीड़ित बच्चों का पहले समीप के करतला सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में प्राथमिक उपचार किया जा रहा है। जहां गंभीर रूप से अभिषेक/घनश्याम(6वर्ष),रीमा/सुरेश सार्थी(4वर्ष),चन्द्रभान/राधेश्यामराठिया(5वर्ष),नीलिमा/संतराम राठिया(5 वर्ष),जितेश/श्याम कुमार राठिया(4वर्ष),साहिल/गोविन्दा राठिया(2.6वर्ष),धनंजय/तालम सिंह राठिया(2.6 वर्ष),शिवरानी/गोविंदा राठिया(5 वर्ष),अर्जित कुमार/गजाधर नायक(2.6 वर्ष) पीड़ित 9 बच्चों का उपचार तुरंत शुरू किया जा रहा है।
पीड़ित बच्चों में ज्यादातर की उम्र 2 से 8 साल के बीच है। आज बुधवार दोपहर 12 बजे  के दौरान बच्चे आगनबाड़ी परिसर व आसपास घूम रहे थे। इसी दौरान कुछ बच्चों ने साथियों के साथ रतनजोत का बीज बांटकर खा लिये। बताया जाता है कि स्कूल परिसर से लगभग 50 मीटर की दूरी पर  रतनजोत के पौधे लगे हैं।
बीज खाने के बाद उन्हें उल्टी व चक्कर महसूस हुआ। बच्चों को उल्टी करते देख सहायिका रामकुमारी राठिया बच्चों के परिजनों को सूचित किया जिसके बाद आगनबाड़ी केंद्र  परिसर चैनपुर में  हड़कंप मच गया और पीड़ित बच्चों को  से करीब 17 किमी  करतला समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया।  परिजनों ने बताया कि 108 संजीवनी एक्सप्रेस करतला लोकेशन में नही होने से प्रावेट गाडी से सबको अस्पताल लाया गया स्वास्थ्य केंद में भी  हड़ कम्प मच गई है। इस सम्बन्ध में आँगन बाड़ी कार्यकर्ता सोमेश्वरी गबेल ने बताया कि उन्होंने ने बताया की मैं साप्ताहिक रिपोर्ट देने बेहरचुआ सेक्टर गई थी  घटना की सुचना मिलते ही मैं  करतला स्वास्थ्य केंद्र आई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *