Wednesday, July 18, 2018
Home > Slider > बढ़ सकती है मुश्किल, यहां भी हुआ मूल्यांकन का बहिष्कार,

बढ़ सकती है मुश्किल, यहां भी हुआ मूल्यांकन का बहिष्कार,

रायगढ़ मुनादी।

शिक्षा कर्मियों द्वारा संविलियन सहित विभिन्न मुद्दों को लेकर अपनी जिद पर अडिग हैं। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार आज से बोर्ड परीक्षा कापी मूल्यांकन का बहिष्कार किया गया। प्रदेश भर से संविलियन सहित विभिन्न लंबित मांगों को लेकर लंबे समय से जद्दोजहद चल रही है शासन की लचर रवैया की वजह से प्रदेश भर में मूल्यांकन का बहिष्कार किया जा रहा है। जिला मुख्यालय के मूल्यांकन केन्द्र नटवर स्कूल में भी शिक्षा कर्मियों द्वारा मूल्यांकन कार्य का बहिष्कार किया।

छत्तीसगढ़ शिक्षक पँचायत नगरीय निकाय मोर्चा के बैनर तले रायगढ़ जिले में एकदिवसीय बोर्ड मूल्यांकन बहिष्कार पूर्णत: सफल रहा। जिला मोर्चा संचालक गिरजाशंकर शुक्ला के मार्गदर्शन एवं जिला उपाध्यक्ष रामलखन सिंह के अगुवाई में आज जिले के दो परीक्षा केंद्रों में मूल्यांकन कार्य पूर्णत: बन्द रहा नेतराम साहू, प्रांतीय संगठन सचिव के कुशल नेतृत्व में शा.बहु.नटवर हायर से. स्कूल में 400 व्याख्याता पंचा. साथियों एवं जिला महिला प्रभारी भावना शर्मा के सफल नेतृत्व में शा कन्या हा से स्कूल में 300 व्याख्याता (पं) साथियों ने मूल्यांकन बहिष्कार किया गया। अब कल से विरोध स्वरूप काली पट्टी लगाकर मूल्यांकन कार्य करने की बात कही गई।

आज के आंदोलन में मोर्चा के शैलेन्द्र मिश्रा,नेहरू निषाद, बिनेश भगत, नीलाम्बर धीरही, चेतन पटेल, राजकमल पटेल महिपाल दास महंत, दीपक भगत उपाध्यक्ष सारंगढ, भोजराम पटेल, अंजना साहू, रीता श्रीवास्तव, आशाकिरण साहू, निशा गौतम, सौरभ पटेल एवं साथी बड़ी संख्या में उपस्थित रहकर मूल्यांकन बहिष्कार को सफल बनाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *