Sunday, May 20, 2018
Home > Slider > मुझें  दुःख होता है कि हमारे मुख्य मंत्री झुठ बोलते है एक पिता की मार्मिक अपील, सोशल मीडिया में हो रहा वायरल, क्या है आप भी जानिये

मुझें  दुःख होता है कि हमारे मुख्य मंत्री झुठ बोलते है एक पिता की मार्मिक अपील, सोशल मीडिया में हो रहा वायरल, क्या है आप भी जानिये

मुनादी डेस्क।

यह जानकार बहोत दुःख हुवा की हमारे मुख्य मंत्री झूठ बोलते है। 2013 में किये वायदों को अब तक पूरा नहीं किया। मै एक किसान हु मेरा बेटा शिक्षा कर्मी है।
सोशल मीडिया में एक पम्पलेट वायरल हो रहा है जिसका हैडिंग है मार्मिक अपील बीजेपी के प्रतिनिधियों से। जिसमे कहा गया है कि वह एक किसान है उसका बेटा शिक्षा कर्मी है 2008 के बीजेपी के संकल्प पत्र और मुख्य मंत्री के भाषण का वीडियो देखने बात तो यह स्पस्ट हो गया है की आपके मुख्य मंत्री जी झूठ बोलते है। आपकी सरकारं झूठ बोलकर आती है 2013 में धान का बोनस समर्थन मूल्य का जो वायदा किया था आज तक पूरा नहीं हुवा ।
कहतें है उनकी सेवा शर्तों में संविलियन नहीं लिखा है तो जो वायदा करते है वो नशे होकर करते हैबक्या उन्हें यह मालूम नहीं। तो फिर जाहिर है कि जो घोषणा पत्र तैयार किया गया वह नशे में तैयार किया गया। अब इन तमाम बातों को लेकर इस पम्पलेट के माध्यम से भड़ास निकाली गई।
इस पम्पलेट में यह भी अपील  किया गया हैंकि इसे हर कोई अपने घर के दरवाजे में टाँगे। दर असल शिक्षा कर्मीयो का संविलियन और वेतन विसंगति को लेकर पोस्टर और सेल्फी वार छिड़ा हुबा है। इस बार में यह पम्पलेट एक  नई कड़ी जुड़ गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *