Monday, April 23, 2018
Home > Slider > जशपुर के इस ख़ासियत से आप वाक़िफ़ हैं ? यदि नहीं तो पढ़िए पूरी ख़बर

जशपुर के इस ख़ासियत से आप वाक़िफ़ हैं ? यदि नहीं तो पढ़िए पूरी ख़बर

जशपुर मुनादी ।।

 

र्पीपी मॉडल लागू कर जिले की जैव विविधता एवम पर्यटन स्थलों को विकसित करेंगे ।पर्यावरण एवम जलवायु परिवर्तन की दिशा में कार्यरत संगठन एवम जशपुर वन मंडल के विभागीय अधिकारियों की एक संयुक्त सम्मेलन बगीचा विकास खंड के राज़पुरी वॉटरफॉल परिसर में शनिवार को सम्पन्न हुयी ,पर्यावरण एवम जिले की जैव विविधता के सरन्क्षण के लिये आयोजित इस बैठक में कई अहम निर्णय लिये गये ,जिले भर से आये पर्यावरणविदों ,शिक्षाविदों ने अपने विचारों से जिले की जैव विविधता के सरन्क्षण पर मंथन कर जशपुर को इको टूरिज्म एवम पर्यटन स्थल के रुप में विकसित करने हेतु प्रशासन का ध्यान आकर्षण कराया इस बैठक जशपुर वन मंडल से सुरेश गुप्ता बगीचा के युवा कार्यकता अकरम जावेद,समाज सेवी अवधूत गुप्ता ,रामकृष्ण आश्रम से स्वामी सुकृपानंद ,  शिक्षक बनारसी यादव स्थानीय पत्रकार ,स्थानीय  वन अमला , बगीचा नगर पंचायत के आम नागरिक विद्यालय के प्राचार्य शिक्षक एवम शिक्षार्थी भी शामिल हुये  ,विदित हो जशपुर जिला कभी अपनी प्राकृतिक एवम अलौकिक सुंदरता के लिये देश भर में विख्यात था ,लेकिन लगातार बदलते जलवायु परिवर्तन एवम ग्लोबल वार्मिंग ,प्राकृतिक आपदाओं के कारण जशपुर की खूबसूरती अब धीरे -धीरे गायब होने लगी है ,जिसे बचाने अब सामाजिक प्रयास की ज़रूरत है ,ताकि जिले के नैसर्गिक सौंदर्य एवम खोई हुयी मुस्कान लौट सके ,जशपुर जिले में वर्षा की बहुलता इस बात का प्रमाण रही कि कभी यहाँ सघन वन थे ,संसाधनों के अति दोहन का असर अब यहाँ के जलवायु पर भी दिखने लगा है।जशपुर में कई जगह प्राचीन कला कृतियों के जीवंत उदाहरण आज भी विद्यमान है ,जिसे सरन्क्षित करने की आवश्यकता है ,तेजी से बदलते जलवायु एवम ग्लोबल वार्मिंग के कारण जिले के कई ऐतिहासिक धरोहरों पर खतरा मँडरा रहा है ।

 

 

जानिये क्या निर्णय हुये इस सम्मेलन में –

 

 

जिले की जैव विविधता की रक्षा ,दुर्लभ वन्यजीव एवम वनस्पतियों के सरन्क्षण पर फोकस जीवनदायिनी नदियों की रक्षा ,उदगम स्थलों की सुरक्षा पर चर्चा एवम जनमानस में जागरुकता 03प्रमुख पर्यटन स्थलों को फोकस कर बुनियादी सुविधाओं की उपलब्धता पर जोर ,पीपीपी मॉडल विकसित करने पर चर्चा 04 जलवायु परिवर्तन एवं जल संकट को देखते हुये इसके संरक्षण पर चर्चा एवम जनजागरण अभियान पर जोर दिया गया ।05जैव विविधता के सरन्क्षण हेतु जिले के महाविद्यालयों एवम विद्यालयों में जागरूकता अभियान

 

जानिये क्या कहा पर्यावरणविदों ने 

 

“जिले में प्राकृतिक संसाधनों की बहुलता के साथ -साथ यहाँ पर्यटन एवम विकास की अपार सम्भावनाएं हैं ,यहाँ की जैव विविधता कई मायनों में काफी अहम है ,मौसम के अनुकूल क्षेत्रों में दुर्लभ प्राय प्रजाति के प्रवासियों पक्षियों जो यूरोप ,अमेरिका ,दक्षिण अफ्रीका ,ब्रिटेन से यहाँ की खूबसूरती में साँस लेने आते हैं ,यह जशपुर के लिये गौरव का विषय है ,दुर्लभ प्रजाति के वनस्पतियों के जशपुर जिले  भर में विख्यात है ।”

 

एस पी यादव ,रिसर्च स्कॉलर  जशपुर

 

जिले का प्राकृतिक सौंदर्य बना रहे ,लोगों को जागरूक कर जैव विविधता की रक्षा के लिये प्रेरित करेंगे ।ऐतिहासिक धरोहरों को सरन्क्षित रखेंगे ।

रामप्रकाश पाण्डेय पर्यावरणविद जशपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *