Tuesday, February 20, 2018
Home > Slider > तानाशाही की हद है, दलित की जान चली गयी और प्रशासन को विरोध प्रदर्शन पर भी ऐतराज

तानाशाही की हद है, दलित की जान चली गयी और प्रशासन को विरोध प्रदर्शन पर भी ऐतराज

 

रायगढ़ न्यूज़

 

 

 

प्रशासन के तानाशाही से तंग आकर आत्मदाह करने वाले दलित युवक जय चौहान को न्याय दिलाने कांग्रेस के लोगों ने मंगलवार को आंबेडकर प्रतिमा के सामने प्रदर्शन किया. प्रदर्शन से पूर्व एसडीएम कार्यालय में इसकी अनुमति के लिए आवेदन दिया था लेकिन एसडीएम ने इसकी अनुमति नहीं दी अब जबकि प्रदर्शन बिना अनुमति हो गयी एसडीएम ने नगर पुलिस अधीक्षक को कार्रवाई करने पत्र लिखा है .

अब सवाल यह उठता है कि प्रशासनिक तानाशाही का विरोध के हक़ पर भी प्रशासन पाबन्दी लगाएगा ? जबकि
प्रदर्शन शांतिपूर्ण था एसडीएम विरोध प्रदर्शन करने वालों पर कार्रवाई क्यों करना चाहते हैं. अब तक यही कहा जा
रहा है की पूरा मसला ही एसडीएम के अविवेक पूर्ण निर्णय के कारन घटित हुआ है. कहा जाता है किहाई कोर्ट से साहब इतना डर गए कि आव देखा न ताव जय चौहान का घर गिरा दिया. अब साहब को कौन बताये कि सैकड़ो हाई कोर्ट के ऐसे फैसले सरकारी कार्यालयों में धुल फांक रहे हैं .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *