Thursday, June 21, 2018
Home > Slider > मान्यता नहीं, फिर भी दे दी डिग्री, बीएएसएलपी कोर्स के नाम पर हुआ फर्जीवाड़ा

मान्यता नहीं, फिर भी दे दी डिग्री, बीएएसएलपी कोर्स के नाम पर हुआ फर्जीवाड़ा

 

रायपुर मुनादी

पं जवाहर लाल नेहरू स्मृति चिकित्सा महाविद्यालय संचालित अम्बेडकर अस्पताल में बीएएसएलपी कोर्स के दो बैचों 2013-14 और 2014-15 को बिना मान्यता के ही डिग्री दे दी गई। इसकी जानकारी बुधवार को दोनों बैचों के छात्रों ने प्रेसवार्ता में दी । उन्होने कहा की हमारे बैंचो के मान्यता प्राप्त नही होने के बावजूद भी हम लोगो को चार साल तक गुमराह किया गया। साथ ही हमें डिग्री भी दे गयी।
उन्होने कहा की जब हमें प्रवेश के एक साल बाद आर.टी.आई के माध्यम से पता चला कि भारतीय पुनर्वास की ओर से काफी अनियमिता के कारण कोर्स संचालित करने के लिए दोनो सत्र के लिए मान्यता नही दी गई है।
इस सम्बध में विभागाघ्यक्ष डॉ हंसा बंजारा और कोर्स सहसंचालिका डॉ वर्षा मुंगटवार से बात की तो उन्होने गुमराह करते हुए सभी डॉक्यूमेंट होने की बाते कही और 4 साल तक हमें गुमराह किया । साथ ही बिना मान्यता के नामांकन पत्र और परीक्षा आयुष विश्वविद्यालय की ओर से लिया गया और डिग्री भी वितरीत कि गई।
00 कैसे हुआ ये फर्जीवाड़ा :
मान्यता नही होने के कारण आज वर्तमान में छात्रों का आर.सी.आई से रजिस्ट्रेशन नही हुआ है,जिससे नौकरी के लिए आपात्र घोषित हो रहे है और बेरोजगार हो रहे है। साथ ही उच्च शिक्षा एम.एस.एल.पी (पीजी) कोर्स करने की अनुमति नही दी गई।
इस सम्बध में फर्जीवाणा की शिकायत के लिए एफ.आई.आर कराने के लिए मौदापारा थाना दो बार गए किन्तु हमारी शिकायत दर्ज नही हुई। दोनों बैंचों में 17 छात्रो से तीन वर्षा में 23,69,800 रुपय फीस जमा की गई है।
छात्रो ने कहा की इस सम्बध में जनदर्शन में शिकायत की है । मंत्री अजय चंद्राकार से मुलाकात भी की गई किन्तु निराकरण नही हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *