Monday, January 21, 2019
Home > Slider > जनसम्पर्क यात्रा पर कांग्रेस की तीखी बोल , कहा-ढकोसला बन्द कीजिये

जनसम्पर्क यात्रा पर कांग्रेस की तीखी बोल , कहा-ढकोसला बन्द कीजिये

 

 

मुनादी पत्थलगांव ।।

 

प्रदेश कांग्रेस के सचिव शेखर त्रिपाठी ने भाजपा द्वारा चलाई जा रही जनआशीर्वाद यात्रा को ढकोसला करार दिया है। उन्होने भाजपा सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए इसे लोगों के असंतोष को दूर करने की कोशिश बताया है। उनका कहना है कि पिछले विधानसभा चुनाव के समय भाजपा लुभावने वादे कर सत्ता में आ गई परंतु सत्ता हासिल करने के बाद सरकार ने लोगों से किया एक भी वादा पूरा नहीं किया। यहां तक हर साल लोगों के आवेदनों का निराकरण भी नही हो सका है  किसानों से धान का समर्थन मूल्य 21सौ रू करने का वादा सरकार ने आज भी पूरा नहीं किया है। वहीं चुनावी वर्ष में एक वर्ष का बोनस देकर किसानों को बरगलाने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि पिछले चुनाव से ठीक पहले वोट लेने के लिए लोगों के राशन कार्ड बनाए गए और सरकार में आते ही राशन कार्ड काट दिए गए। खास तौर पर पात्र लोगों को अपात्र बताकर राशन कार्ड काटे गए। जनता सरकार के इस छलावे को आज भी नहीं  भूली है। यही नहीं सरकार की गलत नीतियों से प्रदेश के लाखों किसान कर्ज के बोझ से दबे हुए हैं। सुरक्षा के क्षेत्र में भी सरकार पूरी तरह विफल साबित हुई है। नक्सली लगातार हमले कर रहे हैं और जवानों को अपनी जान गंवानी पड़ रही है। और सरकार केवल निंदा करने के अलावा कोई ठोस कदम नहीं उठा सकी है जिससे प्रदेश के लोगों को इस समस्या से निजात मिल सके। वहीं शहीदों के परिवारों के लिए भी सरकार द्वारा कोई योजना नहीं बनाई गई है। और तो और जो योजनाएं चल भी रहीं हैं, जानकारी नहीं होने से शहीदों के परिवारों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है। पुलिस व्यवस्था पंगु होती जा रही है। अपराधियों को पुलिस का कोई खौफ नहीं है और वे बेखौफ अपराधों को अंजाम दे रहे हैं। उन्होने आरोप लगाया कि अपराध के आंकड़ों को कम दिखाने के लिए पुलिस चोरी जैसे अपराधों की रिपोर्ट ही दर्ज नहीं करती। और केवल संगीन मामलों में ही रिपोर्ट दर्ज हो पाती है,इसके बावजूद अपराध के आंकड़े लगातार बढ़ रहे हैं। आम जनता में असुरक्षा की भावना बढ़ रही है और लोग अपराध के साये में घुट-घुट कर जी रहे हैं। श्री त्रिपाठी ने कहा कि सरकार की गलत नीतियों से प्रदेश में पूंजीवाद को बढ़ावा मिल रहा है,इससे अमीर और गरीब के बीच की खाई और बढ़ती जा रही है। प्रदेश में रोजगार के अवसर नहीं बढ़ रहे हैं जिससे बेरोजगारों को भटकना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में प्रत्येक व्यक्ति को अपनी मांगेें रखने और विरोध प्रकट करने का अधिकार होता है परंतु इस सरकार के कार्यकाल में लोगों को इस अधिकार से भी वंचित किया जा रहा है। शिक्षाकर्मियों के आंदोलन को लेकर सरकार ने जिस प्रकार दमनकारी रवैया अपनाया वह प्रदेश में इस प्रकार का इकलौता उदाहरण है। रसोइयों की मांगों पर भी सरकार ने ध्यान नहीं दिया। सरकार की कार्यशैली से पिछड़ा तबका आक्रोशित है और भाजपा को अपनी जमीन खिसकती हुई दिखाई देने लगी है। आक्रोश को देखते हुए एक बार फिर उनका वोट हासिल करने के लिए सरकार द्वारा जनआशीर्वाद यात्रा के माध्यम से आम जनता को छलने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने लोगों से भाजपाइयों के बहकावे में न आने और उनसे भाजपा के संकल्प पत्र के वादों को लेकर सवाल पूछने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *