Tuesday, December 11, 2018
Home > Slider > कांग्रेस विधायक छोड़ेंगे अपनी सीट और युद्धवीर लड़ेंगे चुनाव ! कौन होगा वो कांग्रेस विधायक ? पढिये पूरी खबर और जानिए मामले की पूरी इनसाइड स्टोरी

कांग्रेस विधायक छोड़ेंगे अपनी सीट और युद्धवीर लड़ेंगे चुनाव ! कौन होगा वो कांग्रेस विधायक ? पढिये पूरी खबर और जानिए मामले की पूरी इनसाइड स्टोरी

रायपुर मुनादी———-

 

नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव को प्रदेश का बेहतर मुख्यमंत्री बताकर प्रदेश की सियासत में सनसनी फैला देने वाले जशपुर रियासत के छोटे सरकार युद्धवीर सिंह जूदेव ने दो महीने बाद फिर से विधानसभा चुनाव लड़ने की बात कर रहे हैं ।उन्होंने अपने फेसबुक टाइमलाइन में थोड़ी देर पहले ऐसा ही पोस्ट किया है।उन्होंने लिखा है 2 महीने बाद अगर पार्टी ने आदेश दिया तो वह विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे और उन्होंने जो कुछ इसमें खाश लिखा है वो ये कि उनके लिए कांग्रेस के एक भावी विधायक सीट छोड़ेंगे और इसी सीट से 2 महीने बाद युद्धवीर चुनाव लड़ेंगे । इस पोस्ट पर बीजेपी के अंदर काफी हंगामा खड़ा हो सकता है ।हंगामाखेज विषय ये है कि आखिर कांग्रेस का विधायक इनके लिए सीट क्यों छोड़ेगा और वह विधायक कौन होगा ? स्वाल यह भी है कि आखिर भाजपा विधायक की जगह कांग्रेस विधायक क्यों सीट छोड़ेगा ? आपको बता दें कि बीते माह चुनाव प्रचार से पूर्व घोषणापत्र तैयार करने के सिलसिले में जशपुर आये नेता प्रतिपक्ष के जशपुर दौरा के दौरान ही युद्धवीर ने फेसबूक पोस्ट में टीएस सिंहदेव को छग का बेहतर मुख्यमंत्री बता दिया था और सिंहदेव् ने नहले पर दहला मरते हुए मीडिया को यह बयान दे डाला था कि जहां से युद्धवीर चुनाव लड़ेंगे वहां वह कांग्रेस का प्रचार करने तो दूर क्षेत्र में जाने से भी परहेज करेंगे। दो विपरीत विचारधारा वाले दो बड़े दिग्गज नेताओं के ऐसे बयान जब सोशल मीडिया और मीडिया की सुर्खियों में आया तो यहां की सियासत भी स्तब्ध रह गई । दोनो नेताओं के इस बयान के कई सियासी मायने निकाले जाने लगे थे ।सोशल मीडिया में तो यहां तक कहा गया कि दो राजघरानों में पोलटिकल फिक्सिंग हो गयी। हांलाकि टीएस बाबा ने बाद में भी यह स्पष्ट कर दिया था कि उन्होंने जो कुछ भी बयान दिया था उसका राजनीति से जोड़ने के बजाय पारिवारिक सम्बन्धो से जोड़कर देखा जाय ।उन्होंने स्पष्ट किया कि जशपुर राजपरिवार से उनके पारिवारिक सम्बन्ध हैं और पारिवारिक रिश्ता वह हमेशा निभाते रहेंगे ।
बहरहाल युद्धवीर के ताजा पोस्ट आने के बाद दो डेढ़ माह पहले दोनो नेताओं के पुराने बयानों से फिर से जोड़कर देखा तो जाने ही लगा है साथ ही साथ प्रदेश की सियासत में चुनाव के बाद भारी उथल उथल होने के भी संकेत मिल रहे हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *