Wednesday, December 19, 2018
Home > Slider > जब कलेक्टर और एसपी दोनों पहुंचे स्कूल…

जब कलेक्टर और एसपी दोनों पहुंचे स्कूल…

तरुण शर्मा की मुनादी।।

जशपुर  प्रदेश में भर में चल रही शिक्षाकर्मियों की हड़ताल से बच्चों की पढ़ाई को अप्रभवित रखने जिले के शासकीय कर्मचारी चला रहे है शिक्षा योगदान मुहिम। इसके अंतर्गत कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला एवं पुलिस अधीक्षक श्री प्रशांत सिंह ठाकुर ने शनिवार को सोगड़ा के हाईस्कूल एवं माध्यमिक स्कूल में अंग्रेजी एवं गणित की कक्षाएं ली। सभी ब्लॉक के अधिकारियों ने भी कार्यालयीन समय से पहले सुबह 7 से 10 बजे तक बच्चों को चयनित स्कूलों में शिक्षा योगदान मुहित के अंतर्गत पढ़ाया।

   कलेक्टर ने कहा——

डॉ. प्रियंका शुक्ला ने कहा कि शिक्षा विकास का सबसे जरूरी पायदान है एवं हर शिक्षित व्यक्ति की यह सामाजिक जिम्मेदारी है कि वह अपने खाली समय में शिक्षा योगदान करे और आने वाली पीढ़ी को कुछ सिखाकर जाए। ऐसे समय में जब परीक्षाएं कुछ ही महीनों बाद है एवं कुछ शिक्षकों की हड़ताल चल रही है, यह और भी जरूरी हो जाता है की बच्चों के भविष्य को देखते हुए उनकी पढ़ाई निरंतर चलती रहे। अतएव सभी शासकीय एवं अशासकीय व्यक्तियों को अपने खाली समय का सदुपयोग बच्चों को अपने सार्म्थय अनुसार शिक्षा योगदान करके करना चाहिए। जिले के 180 से भी ज्यादा कर्मचारियों ने शनिवार की सुबह 7 से 10 बजे तक विभिन्न स्कूलों में बच्चों को शिक्षा दी।

 

पुलिस अधीक्षक श्री प्रशांत सिंह ठाकुर ने कहा कि शिक्षा योगदान एक बहुत अच्छी मुहिम है और पुलिस के कर्मचारी भी अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करने के बाद अतिरिक्त समय में शिक्षा योगदान करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि आज बच्चों को पढ़ा कर अच्छा लगा।

अन्य अधिकारी भी दे रहे योगदान

जशपुर तथा मनोरा विकासखण्ड में 52 से अधिक अधिकारी एवं कर्मचारियों ने अपना शिक्षा योगदान दिया। इसके अलावा कांसाबेल जनपद के 17 अधिकारी एवं कर्मचारी, बगीचा जनपद के 15 पत्थलगांव जनपद के 23, दुलदुला जनपद के 10, फरसाबहार जनपद के 12 और कुनकुरी जनपद के 21 अधिकारी एवं कर्मचारियों के द्वारा शिक्षा योगदान में अपना सहयोग प्रदान किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *