Friday, April 20, 2018
Home > Slider > ये भाई नहीं कसाई निकला, गला दबाकर, बेदर्दी से बस इसलिए मार डाला, क्योंकि……

ये भाई नहीं कसाई निकला, गला दबाकर, बेदर्दी से बस इसलिए मार डाला, क्योंकि……

 

जशपुर मुनादी ।।

 

 

क्या आप कभी सोंच सकते हैं कि मामूली सी बात पर कोई सगा भाई अपनी बहन की हत्या कर सकता है ।शायद नही ,लेकिन जशपुर के कलियुगी भाई ने कुछ ही ऐसा ही कर दिया। मोबाइल की जिद्द करने वाली बहन को एक भाई ने गला दबाकर मार डाला ।मामला सन्ना थाने का है ।

जान ले मामला क्या है ?

कुछ दिनों पहले संदिग्ध हालत में युवती की जली हुई लाश मिली थी जिसे आत्म हत्या बताया जा रहा था ।
आपको ज्ञात होगा कि एक अप्रैल को सुबह सन्ना थाना अंतर्गत ग्राम ढेकीड़ीपा(नन्हेसर) में बस्ती से दूर एक युवती की मचान के नीचे जली हुई लाशमिली थी जिसे देख कर प्रथम दृष्टया आत्म हत्या माना गया।मृतिका के े परिवार वालो का भी यही कहना था कि मोबाइल नही देने के कारण उज़्ने ऐसा कदम उठा लिया।आत्महत्या की शिकायत सन्ना थाना में उसके भाई शंकर भगत ने स्वयं की थी।
लेकिन जब पूलिस ने मामले की तहकीकात शुरू की तो बात कुछ और ही निकल कर सामने आई।जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आया तो पता चला कि यह आत्म हत्या नही बल्कि गला घोंटकर इसकी हत्या की गई है ।
रिपोर्ट के पता चलते ही सन्ना पुलिस ने कार्यवाही तेज कर दी और बिना लेट किये जांच में जुट गई। सबसे पहले युवती के घर वालों से ही पूछताछ शुरू किया गया । परिवार के सभी सदस्यों के बातो में असम्मानता होने से घर के लोगो पर ही शंदेह जाने लगा तभी युवती के बड़े भाई शंकर भगत पिता सुखदेव भगत से जब सख्ती से पूछ ताछ की गई तो उसने जो बताया वह चौंकाने वाला था ।आरोपी भाई ने बताया कि “जब मेरी बहन मोबाइल के लिए जिद्द कर रही थी तो उसने उसे पीटना शुरू कर दिया एवं रात को सभी सरहुल मनाने चले गए मेरी बहन नही गयी तो वह रात में अपने घर आया और नींद में गाफिल बहन का गला दबा दिया । किसी को न पता चले इसके लिए मैन उसे गांव से दूर एक मचान के नीचे उसके ही ओढ़नी से फांसी बनाकर जलाने की कोशिश की और वहाँ से घर आकर सो गया और सुबह गांव वालों के बताने पर मैं आश्चर्य होने का नाटक किया और सन्ना थाना में आत्म हत्या का रिपोर्ट दर्ज करवा दिया ।”

आरोपी भाई के बयान के आधार सन्ना पूलिस ेेने आरोपी के खिलाफ धारा 302,201 तजीरातहिन्द की जुर्म दर्ज कर जेल भेज दिया गया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *